के एल राहुल की भारतीय टीम में जगह पक्की, कौन होगा बाहर?? | Sportzwiki Hindi

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

के एल राहुल की भारतीय टीम में जगह पक्की, कौन होगा बाहर?? 

के एल राहुल की भारतीय टीम में जगह पक्की, कौन होगा बाहर??

सबीना पार्क टेस्ट में भारतीय सलामी बल्लेबाज़ मुरली विजय को अंगूठे की चोट के कारण बाहर होने पड़ा, जिसके वजह से केएल राहुल को उनके स्थान पर खेलने का मौका मिला और राहुल ने मौको को दोनों हाथो से भुनाते हुए शानदार शतक जड़ा. राहुल के शतक ने भारतीय कप्तान विराट कोहली की सरदर्दी बढ़ा दी हैं. तीसरे टेस्ट से पहले मुरली विजय फिट हो जायेंगे, तब कोहली को सामने अंतिम एकादश टीम बनाने के लिए माथापच्ची करनी पड़ सकती हैं.

तमिलनाडु के सलामी बल्लेबाज़ मुरली विजय ने अब तक भारत के लिए 38 टेस्ट मैचो में हिस्सा लिया है, जिसमे विजय ने 40.56 की औसत से 2637 रन बनाये हैं, मुरली विजय ने अपने टेस्ट करियर में 6 शतक लगाये हैं. टेस्ट की लम्बी पारियों के लिए मशहुर विजय ने 3 मजबूत देश के विरूद्ध उनके ही गढ़ में भी (एडिलेड में 99, डरबन में 97 और लॉर्ड्स के मैदान पर 95) कुछ अहम पारिया खेली हैं. विजय ने अपने टेस्ट करियर के दौरान कई मौको पर अपने धीरज और लय से भारतीय टीम को फतह दिलाई हैं.

सबीना पार्क की हरी पिच पर भारतीय टीम को ऐसे सलामी बल्लेबाज़ की जरुरत थी जो विजय की तरह धैर्य का परिचय देते हुए लम्बी पारी खेल सके.
विजय के चोटिल होने के बाद सवाल यह था, कि चोटिल मुरली विजय के स्थान पर रोहित शर्मा या राहुल कौन अच्छा विकल्प साबित होगा?

इसमें कोई शक नहीं कि रोहित शर्मा और केएल राहुल दोनों प्रतिभाशाली खिलाड़ी है लेकिन अच्छी फॉर्म के कारण टीम मैनेजमेंट ने राहुल को रोहित से अधिक महत्व दिया.

हाल में ज़िम्बाब्वे के विरुद्ध हुई 3 मैचो के एकदिवसीय सीरीज के दौरान राहुल ने 196 की औसत से 196 रन बनाये थे. आईपीएल 2016 में भी राहुल ने 44.11 की औसत और 146.5 की शानदार स्ट्राइक-रेट से रन बनाये थे. केएल राहुल में क्षमता है, कि वह जरुरत पड़ने पर टीम के विकेटकीपिंग की जिम्मेदारी भी संभाल सकते हैं.

दूसरी ओर रोहित शर्मा टी-ट्वेंटी विश्वकप के बाद से अन्तराष्ट्रीय क्रिकेट से दूर हैं. रोहित शर्मा का भी आईपीएल सीजन बेहद ही शानदार रहा था. राहुल और रोहित आईपीएल के दौरान अपनी टीम के लिए बेहद ही सफल रहे थे.

हालाँकि सिमित ओवरों के क्रिकेट की टेस्ट क्रिकेट से तुलना करना सही नही हैं.

रोहित शर्मा एकदिवसीय क्रिकेट में अपने आप को एक सलामी बल्लेबाज़ के रूप में स्थापित कर चुके हैं, जबकि टेस्ट क्रिकेट में रोहित को अब तक पारी की शुरूआत करने का मौका नहीं मिल पाया हैं.

जबकि वहीं केएल राहुल भारत के लिए एकदिवसीय, टेस्ट और टी-ट्वेंटी तीनो में  पारी की शुरुआत कर चुके है, और राहुल को जब मौका मिला है, उन्होंने अपनी प्रतिभा दिखाते हुए सबको प्रभावित किया हैं. राहुल भारत के लिए सलामी बल्लेबाज़ के तौर पर अन्तराष्ट्रीय क्रिकेट में 4 शतक लगा चुके हैं.

सबीना पार्क टेस्ट की पहली पारी में 158 रनों की शानदार पारी खेलने के बाद यह तो तय है, कि राहुल अब तीसरे टेस्ट मैच में भारत के सदस्य जरूर होगे, अब देखना होगा कि विजय जब चोट से वापस आयेगे तो उन्हें बाहर बैठना पड़ेगा या किसी और बल्लेबाज़ के स्थान पर राहुल को मौका मिलेगा?.

 

Related posts