Why Mohammad Shami not get place in T20 World Cup 2022

अक्टूबर-नवंबर के महीने में टीम इंडिया को टी20 विश्व कप 2022 (T20 World Cup 2022) खेलना है। यह टूर्नामेंट ऑस्ट्रेलिया में खेला जाएगा। कंगारू टीम इस टूर्नामेंट में बतौर डिफेंडिंग चैम्पियन के तौर पर उतरेगा क्योंकि 2021 में ऑस्ट्रेलिया ने ख़िताब को अपने नाम किया था। इसी बीच टीम इंडिया के तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी (Mohammad Shami) को लेकर एक बड़ी खबर सामने आई है। बताया जा रहा है कि अब उनकी जगह इस टूर्नामेंट में नहीं बनती है। इस बात की पुष्टि भारतीय सेलेक्शन कमिटी की तरफ से एक तरह से कर ही दी गई है क्योंकि शानदार फॉर्म में होने के बावजूद भी शमी को विंडीज दौरे के लिए नहीं चुना गया।

टी20 विश्व कप 2022 से बाहर होंगे शमी !

Mohammad Shami

वेस्टइंडीज के खिलाफ 5 मैचों की टी20 सीरीज में टीम इंडिया के तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी (Mohammad Shami) को चयनकर्ताओं ने मौका ना देकर साबित कर दी है कि उन्हें शायद ही टी20 विश्व कप 2022 (T20 World Cup 2022) के लिए चुना जाएगा क्योंकि बोर्ड के प्लान में जसप्रीत बुमराह, भुवनेश्वर कुमार, अर्शदीप सिंह, हर्षल पटेल जैसे तेज गेंदबाज हैं। इसके साथ ही शमी को 2021 के टूर्नामेंट में मौका दिया गया था मौका लेकिन उनका वो फ्लॉप साबित हुए थे ।

इसी बीच इंसाइडस्पोर्ट से बात करते हुए बोर्ड के एक अधिकारी ने बताया कि टी20 विश्व कप 2022 के लिए शमी के नाम पर विचार नहीं किया जा रहा है। हमने उनके वर्कलोड मैनेजमेंट पर उनके साथ बातचीत की है। फिलहाल उनकी टी20 फॉर्मेट में कोई योजना नहीं है और अब ध्यान युवा गेंदबाजों पर होगा। ऐसे में यह साफ़ हो जाता है कि शमी को शायद ही इस आने वाले विश्व कप में मौका मिले।

टी20 में शमी के आंकड़े हैं ख़राब

mohammad shami

गौरतलब है कि टीम इंडिया के तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी (Mohammad Shami) के टी20 में आंकड़े बेहद ही ख़राब हैं। उन्हें अब तक मात्र 17 टी20 मैचों में ही मौका दिया गया है लेकिन इस दौरान उन्होंने बेहद ही ख़राब गेंदबाजी की है। उन्होंने 9.55 की खराब इकॉनमी से गेंदबाजी करते हुए 18 विकेट ही अपने नाम किए हैं। ऐसे में टी20 में उनके प्रदर्शन को देखते हुए, चयनकर्ता उनका रुख नहीं करना चाहते हैं।

वहीं, दूसरी तरफ क्रिकेट के इस छोटे फॉर्मेट में बुमराह और भुवनेश्वर की जोड़ी विरोधी टीम के लिए काल साबित हो रही है जबकि भारत को अर्शदीप सिंह के रूप में एक और घातक गेंदबाज मिल चुका है। साथ ही टीम मैनेजमेंट के पास दीपक चाहर, हर्षल पटेल और आवेश खान के रूप में कई विकल भी मौजूद हैं। ऐसे में चयनकर्ता शायद ही शमी को विश्व कप के लिए चुने।