पिछले 10 मैचों में 8 शतक ठोक चुके ऋतुराज गायकवाड़, लेकिन इस वजह से नहीं मिलता टीम इंडिया में मौका 1

Ruturaj Gaikwad: भारतीय टीम के लिए नए युवा खिलाड़ियों को अपनी प्रतिभा दिखाने के लिए घरेलु क्रिकेट एक बेहद ही बड़ा मंच देता है. विजय हजारे ट्राफी 2022 में एक से बढकर एक खिलाड़ी मैच विनिंग प्रदर्शन के चलते सेलेक्टर्स का ध्यान अपनी तरफ खींच रहे है. चाहे बात ही दोहरे शतक की या टीम को अकेले दम पर जीत दिलवाने की इस लिस्ट में जिस खिलाड़ी का नाम सबसे ऊपर नजर आता है वो है ऋतुराज गायकवाड़ गायकवाड. 25 वर्षीय ओपनर ने विजय हजारे ट्राफी में बेहतरीन बल्लेबाज़ी करते हुए भारतीय टीम के लिए अपनी दावेदारी को और मजबूत किया है.

फाइनल मुकाबले में भी जमाया सैंकड़ा

Ruturaj Gaikwad
Ruturaj Gaikwad

रुतुराज गायकवाड (Ruturaj Gaikwad) का बल्ला महाराष्ट्र के लिए इस पुरे टूर्नामेंट में आग उगलता हुआ नज़र आ रहा है. रुतुराज ने आज यानि 2 दिसम्बर को खेले जा रहे फाइनल मुकाबले में 131 गेंदों में 108 रन की बेहतरीन पारी खेली है. उन्होंने इस दौरान 7 चौके और 4 छक्के भी लगाये है.  दूसरे छोर से लगातार विकेट गिरने के बावजूद ऋतुराज गायकवाड़ ने संयम  के साथ बल्लेबाज़ी करते हुए दिखाया है की कैसे टीम को संभाला जाता है. सलामी बल्लेबाज़ी के तौर पर आये ऋतुराज गायकवाड़ ने टीम की रन गति को बरकरार रखते हुए मैच में बनाये रखा है. रुतुराज की इस पारी की बदौलत टीम का स्कोर 248 पर पहुँच पाया है. ऋतुराज गायकवाड़ ने अगर कप्तानी पारी ना खेली होती तो मैच की कहानी कुछ और ही होती.

पिछले 10 मुकाबलों में ठोंक चुके है 8 शतक

पिछले 10 मैचों में 8 शतक ठोक चुके ऋतुराज गायकवाड़, लेकिन इस वजह से नहीं मिलता टीम इंडिया में मौका 2

विजय हजारे ट्राफी 2022 में ऋतुराज गायकवाड़ (Ruturaj Gaikwad) को सभी मैच खेलने का मौका तो नहीं मिला लेकिन सिर्फ 5 मैचों में बल्लेबाज़ी करने आये ऋतुराज गायकवाड़ ने तूफानी बल्लेबाज़ी की है. 12 नवम्बर को पहले मुकाबले में रेलवे के खिलाफ उन्होंने 124* रन की पारी खेली थी. वही उत्तर प्रदेश के लिए उन्होंने 220* रन की ताबड़तोड़ पारी खेली थी जिसमें उन्होंने एक ओवर में 7 छक्के लगाने का भी कारनामा कर दिखाया था.

विजय हजारे ट्राफी के सेमी फाइनल मुकाबले में भी ऋतुराज गायकवाड़ ने असम के खिलाफ़ 168 की मैच विनिंग पारी खेली थी. ऐसे में अगर उनके पिछली 10 पारियों की बात करे 168, 220*, 40, 124*, 168, 21, 124, 154*, 136 रनों की पारियाँ खेल चुके ऋतुराज गायकवाड़ के लिए सबसे बड़ा सवाल है टीम इंडिया में मौका ना मिला पाना?

पर टीम इंडिया में क्यों नहीं मिलता मौका?

पिछले 10 मैचों में 8 शतक ठोक चुके ऋतुराज गायकवाड़, लेकिन इस वजह से नहीं मिलता टीम इंडिया में मौका 3

ऋतुराज गायकवाड़ (Ruturaj Gaikwad) के घरेलु क्रिकेट में बेहतरीन प्रदर्शन के बावजूद उन्हें भारतीय टीम के लिए बेहद ही कम मौके मिले है. भारतीय टीम के लिए साल 2021 में टी20 डेब्यू तथा साल 2022 में वनडे डेब्यू के बाद ऋतुराज गायकवाड़ सिर्फ 9 टी20 और 1 वनडे मुकाबला खेलने में ही सफल रहे. हालिया न्यूजीलैंड सीरीज और आगामी बांग्लादेश दौरे पर भी ऋतुराज को मौका नहीं दिया गया है.

ताबड़तोड़ रन बनाने के बाद भी टीम में चयन ना होने की बड़ी वजह टीम इंडिया का टॉप आर्डर में सलमे बल्लेबाजों की अधिकता है. रोहित शर्मा, केएल राहुल, शिखर धवन, शुभमन गिल जैसे नियमित सलामी बल्लेबाज़ों के अलावा टीम के पास ईशान किशन, पृथ्वी शॉ भी एक विकल्प के तौर पर मौजूद है.

साथ ही कप्तान रोहित ने ऋषभ पंत और सूर्यकुमार यादव को भी सलामी बल्लेबाज़ी की जिम्मेदारी के लिए दावेदार बताया है. ऐसे में भारतीय टीम के लिए ऋतुराज के तौर पर प्रतिभावान खिलाड़ी होने की बावजूद भी उन्हें टीम में चुना जाना बेहद ही मुश्किल नजर आता है.