केन विलियमसन

भारत बनाम न्यूजीलैंड के बीच 21 फरवरी से टेस्ट सीरीज का आगाज होने वाला है. इस टेस्ट सीरीज का सभी क्रिकेट प्रेमी बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं क्योंकि ये बेहद रोमांचक होने वाली है. टेस्ट सीरीज शुरु होने से पहले किवी कप्तान केन विलियमसन, टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली की तारीफ करते नजर आए. साथ ही उन्होंने विराट को तीनों फॉर्मेट्स का सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज बताया.

विराट कोहली हैं तीनों फॉर्मेट्स के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज

विराट कोहली

2008 में अंडर-19 विश्व कप के साथ ही विराट कोहली-केन विलियमसन ने अपने क्रिकेट करियर की शुरुआत की. तभी से ये दोनों खिलाड़ी काफी अच्छे दोस्त हैं. क्रिकेट मैदान पर कॉम्पटीशन से बाहर विलियमसन-कोहली एक-दूसरे के बीच सम्मान करते हैं. 21 फरवरी को वेलिंगटन के बेसिन रिजर्व मैदान पर खेले जाने वाले पहले टेस्ट मैच से पहले केन विलियमसन ने मीडिया से बात करते हुए कहा,

साफतौर पर विराट कोहली तीनों फॉर्मेट में सबसे अच्छे बल्लेबाज हैं. लेकिन वे एक क्वालिटी टीम हैं और विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप का नेतृत्व कर रहे हैं.

आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप में नंबर-1 पर है टीम इंडिया

टेस्ट सीरीज से पहले केन विलियमसन ने बताया, तीनों फॉर्मेट्स के बेस्ट खिलाड़ी का नाम 1

टेस्ट सीरीज से पहले केन विलियमसन ने बताया, तीनों फॉर्मेट्स के बेस्ट खिलाड़ी का नाम 2

आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप में अब तक खेले हुए सभी मैचों में जीत दर्ज करते हुए टीम इंडिया 360 अंकों के साथ नंबर-1 पर काबिज है. विलियमसन ने भारत के नंबर-1 होने के बारे में बात करते हुए कहा,

इसकी एक वजह यह है कि उनके पास अपने लाइन-अप में बहुत सारे क्वालिटी बल्लेबाज हैं. भारतीय टीम में  विश्व स्तरीय गेंदबाजी लाइन-अप भी मिला है. इससे आपको निश्चित रूप से किसी एक खिलाड़ी पर ध्यान नहीं केंद्रितकरना है और जो हमें हर किसी की टीम के दृष्टिकोण पर ध्यान केंद्रित करता है.

बाउंड्री के पास बैठकर क्या बात कर रहे थे दोनों कप्तान?

केन विलियमसन

टीम इंडिया बनाम न्यूजीलैंड के बीच खेली गई टी20 सीरीज के आखिरी मैच के दौरान कप्तान विराट कोहली व किवी कप्तान केन विलियमसन बाउंड्री के पास बैठकर काफी देर तक बातचीत करते नजर आए थे. जब भी कैमरा उनपर जाता वह दोनों मुस्कुराते नजर आते. अब विराट ने टेस्ट सीरीज से पहले उस वाक्ये को याद करते हुए बताया, कि

उस दौरान जब हम साथ बैठे थे हमने मैच के बारे में कोई बात नहीं की. हम अब उस स्तर पर पहुंच चुके हैं जहां प्रत्येक टीम हमें हराना चाहती है और न्यूजीलैंड भी अलग नहीं है. लेकिन अंतर यह होगा कि इसमें कोई द्वेष नहीं होगा. यही वजह है कि मैं केन के साथ सीमा रेखा के पार बैठकर मैच के बीच में क्रिकेट पर नहीं बल्कि अपनी जिंदगी पर बात कर रहा था.