ब्रायन लारा ने बताया क्यों नहीं करना चाहेंगे जसप्रीत बुमराह का सामना, तारीफ में कह दी ये बड़ी बात 1

संयुक्त अरब अमीरात में खेले जा रहे इंडियन प्रीमियर लीग के 13वें सीजन में बल्लेबाजों के साथ ही गेंदबाजों का भी जबरदस्त जलवा देखने को मिला है। इस सीजन में गेंदबाजों में भारतीय क्रिकेट टीम के कुछ गेंदबाजों ने तो बहुत ही शानदार नजारा पेश किया, जिसमें सबसे बड़ा और खास नाम जसप्रीत बुमराह का रहा।

जसप्रीत बुमराह का देखने को मिला जलवा

मुंबई इंडियंस की टीम के लिए खेल रहे जसप्रीत बुमराह का इस सीजन काफी प्रभाव दिखा। जिन्होंने अपनी गेंदबाजी से विरोधी बल्लेबाजों को परेशान करने में कोई कमी नहीं रखी।

जसप्रीत बुमराह

जसप्रीत बुमराह मुंबई इंडियंस के फाइनल में पहुंचने सबसे बड़े नायक साबित हुए, उन्होंने अपनी गेंदबाजी के दम पर मुंबई इंडियंस को कुछ मैचों में तो अकेले दम पर ही आगे कर दिया। जिससे मुंबई की राह काफी आसान होती चली गई।

अपने युग में कभी नहीं करना चाहता बुमराह का सामना- ब्रायन लारा

वेस्टइंडीज के महान बल्लेबाज ब्रायन लारा जसप्रीत बुमराह की गेंदबाजी से बहुत ही प्रभावित हुए हैं। ब्रायन लारा जैसे बल्लेबाज कुछ इस कदर बुमराह की गेंदबाजी से प्रभावित हुए हैं कि उन्होंने अपने दौर में बुमराह की गेंदबाजी का सामना कभी नहीं करने की बात कही।

ब्रायन लारा ने बताया क्यों नहीं करना चाहेंगे जसप्रीत बुमराह का सामना, तारीफ में कह दी ये बड़ी बात 2

ब्रायन लारा ने एक इंटरव्यू के दौरान साफ शब्दों में माना कि वो तो बुमराह की गेंदबाजी का सामना कभी नहीं करना चाहते। उन्होंने कहा कि “मैं जसप्रीत बुमराह का सामना नहीं करना चुनूँगा और कपिल देव, जवागल श्रीनाथ तथा मनोज प्रभाकर के सामने ही खेलना पसंद करूंगा।”

जोफ्रा और जसप्रीत किसी भी युग में होते सबसे बड़े गेंदबाज

ब्रायन लारा इस मौजूदा दौर में दो गेंदबाजों से काफी ज्यादा आकर्षित हुए हैं। जिसमें जसप्रीत बुमराह के अलावा जोफ्रा आर्चर को भी शानदार गेंदबाज मानते हैं। लारा ने कहा कि किसी भी युग में आर्चर और बुमराह सबसे बेस्ट गेंदबाजों में शामिल रहते।

ब्रायन लारा ने बताया क्यों नहीं करना चाहेंगे जसप्रीत बुमराह का सामना, तारीफ में कह दी ये बड़ी बात 3

लारा ने कहा कि “जसप्रीत बुमराह और जोफ्रा आर्चर क्रिकेट के किसी भी युग में खेलते, तो गिने जाते। अगर वे 70, 80, 90 या 2000 में भी खेल रहे होते, तो भी उनका नाम लिया जाता। जहाँ तक मैंने देखा है और अभी भी देख रहा हूँ। ये दोनों गेंदबाज किसी भी युग के क्षेत्र में शामिल होंगे।”