//

सीएए कानून के तहत भारत की नागरिकता लेना चाहेंगे? दानिश कनेरिया ने दिया ये जवाब

कुछ समय पहले पाकिस्तानी चैनल पीटीवी के एक शो के दौरान शोएब अख्तर ने कहा था, कि हिन्दू होने की वजह से दानिश कनेरिया की टीम में इज्जत नहीं की जाती थी. पाकिस्तानी खिलाड़ी उनके साथ खाने से भी पीछे हटते थे. शोएब अख्तर के इस बयान को दानिश कनेरिया ने भी सही बताया हैं. उन्होंने शोएब अख्तर का शुक्रिया करते हुए कहा है कि मुझे ख़ुशी है, कि शोएब भाई ने बात को कहना का साहस किया है, क्योंकि मैं इस बात को कभी नहीं कह पाया था.

जेसीसी
बनना चाहते हैं प्रोफेशनल क्रिकेटर?
अभी करें रजिस्टर

*T&C Apply

भारत की नागरिकता नहीं लेना चाहते दानिश कनेरिया

शोएब अख्तर

शोएब अख्तर के बयान के बाद सुर्खियों में आए, दानिश कनेरिया ने एक बार फिर सुर्खियों बटोर ली है. दरअसल, सीएए कानून के तहत दानिश कनेरिया भारत की नागरिकता नहीं लेना चाहते.

दानिश कनेरिया ने इस बारे में बात करते हुए अपने एक बयान में कहा, “ये उन अल्पसंख्यक लोगों के लिए है, जिन्हें परेशानी है. पाकिस्तान के लोग काफी अच्छे हैं. यहां मेरे काफी फैंस हैं और इज्जत भी देते हैं. मेरी लड़ाई सिर्फ पीसीबी से है. बोर्ड सभी का सपोर्ट करती है लेकिन उनके साथ भेदभाव कर रही है.”

शाहिद अफरीदी पर साधा निशाना

सीएए कानून के तहत भारत की नागरिकता लेना चाहेंगे? दानिश कनेरिया ने दिया ये जवाब 1

अपने बयान में दानिश कनेरिया ने शाहिद अफरीदी पर भी निशाना साधा है. उन्होंने टी-20 टीम में जगह ना मिलने का कारण बताते हुए कहा, “सभी की अपनी लॉबी थी. मैं उसमें फिट नहीं होता था. इंग्लैंड की टी-20 लीग के प्रदर्शन को चयनकर्ता तवज्जो नहीं देते थे. अफरीदी लेग स्पिनर थे. वे दूसरे लेग स्पिनरों को घरेलू मैच में खेलने का मौका नहीं देते थे.”

भारत में कमेंट्री या कोचिंग करना चाहते

सीएए कानून के तहत भारत की नागरिकता लेना चाहेंगे? दानिश कनेरिया ने दिया ये जवाब 2

बता दें, कि स्पिन दानिश कनेरिया ने पाकिस्तान टीम के लिए 61 टेस्ट मैचों में 261 विकेट व 18 वनडे मैच में कुल 15 विकेट हासिल किये हैं. उन्होंने कहा है कि वह भारत में कोचिंग या कमेंट्री करना चाहते हैं.

दानिश कनेरिया ने कहा, “मैं अभी भी खेलने को तैयार हूं. साथ ही कोचिंग और कमेंट्री भी करना चाहता हूं. मैं भारत, बांग्लादेश में कोचिंग देना चाहता हूं.”