टेस्ट खेलने में अभी कोई रूचि नहीं: ड्वेन ब्रावो

बीते दिन वेस्टइंडीज के आलराउंडर खिलाड़ी ड्वेन ब्रावो वेस्टइंडीज के हेड कोच फिल सिमन्स से मिले, और दोनों के बिच ब्रावो को टेस्ट टीम में खेलने को लेकर बात हुयी लेकिन सिमन्स ऐसा करने में नाकामयाब रहे, सिमोंस ब्रावो को टेस्ट क्रिकेट खेलते रहने के लिए राजी नहीं कर पाए.

गौरतलब है, कि अभी कुछ दिन पहले ही इस खिलाड़ी ने टेस्ट क्रिकेट से सन्यास लेकर वनडे और टी-20 पर ध्यान देने की बात कही थी, जिसके बाद से लगातार ब्रावो को इसके लिए मनाया जा रहा है, कि वो टेस्ट क्रिकेट खेलना जारी रखे.

सिमन्स ब्रावो से मिलकर जानना चाहते थे, कि वेस्ट इंडीज के सीनियर्स खिलाड़ियों में शामिल ब्रावो, पोलार्ड और सुनील नरेन टेस्ट क्रिकेट में वापसी को लेकर रूचि रखते है या नहीं, लेकिन इस खिलाड़ी से मिलने के बाद अब ये साफ़ हो गया है, कि वो टेस्ट क्रिकेट में वापसी नहीं करना चाहते.

पिछले साल साउथ अफ्रीका के खिलाफ वेस्ट इंडीज के लिए टी-20 खेलने वाले ब्रावो ने कहा, कि-

“मैंने कोच सिमन्स से मुलाकात किया, लेकिन टेस्ट क्रिकेट खेलने की मेरी कोई रूचि नहीं है, वेस्टइंडीज क्रिकेट में खिलाड़ियों के लिए खेल का माहौल पहले से कही ज्यादा खराब हो चूका है.”

अगर अनुमान लगाये तो हम यह कह सकते है, कि ब्रावो की नराजगी का कारण पहले पिछले साल भारत के खिलाफ वनडे सीरीज की कप्तानी से हटाना था, हालाँकि यह सीरीज वेस्टइंडीज क्रिकेटर्स पेमेंट न मिलने के कारण बिच में ही छोड़ कर चले गये थे, उसके बाद न्यूज़ीलैंड और ऑस्ट्रेलिया में होने वाले विश्वकप 2015 में भी इन खिलाड़ियों को जगह नहीं मिली थी, उसके बाद साउथ अफ्रीका के खिलाफ वनडे सीरीज में भी ब्रावो को वेस्टइंडीज टीम में जगह नहीं दी गयी थी.

ब्रावो ने कहा,”यह सुनने में आया है, कि वेस्टइंडीज प्लेयर्स एसोसिएशन (WIPA), ने वेस्ट इंडीज क्रिकेट बोर्ड (WICB) से कोई समझौता किया है, लेकिन एक खिलाडी के तौर पर हमे इस समझौते के बारे में कोई जानकारी नहीं है. जितना सुनने में आया है, उसके हिसाब से ये ऑफर काफी कम है, और इसलिए अभी मेरा टेस्ट मैच में वापसी करने का कोई इरादा नहीं है.”

Related Topics