मुंबई-बडौदा के मैच में युसुफ पठान और अजिंक्य रहाणे की बहस

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

मुंबई-बड़ौदा रणजी मैच में युसुफ पठान और अजिंक्य रहाणे के बीच इस बात को लेकर बहस 

मुंबई-बड़ौदा रणजी मैच में युसुफ पठान और अजिंक्य रहाणे के बीच इस बात को लेकर बहस

भारत के सबसे बड़े घरेलू टूर्नामेंट रणजी ट्रॉफी के रण में गुरुवार को सबसे सफलतम टीम मुंबई ने बडौदा को अपने पहले मैच में करारी शिकस्त दी। मुंबई ने ग्रुप बी के इस मैच में जबरदस्त प्रदर्शन करते हुए बडौदा की टीम को 309 रनों के बड़े अंतर से हराकर जीत के साथ शुरुआत की।

मुंबई-बदौडा के मैच में दो सीनियर खिलाड़ियों के बीच बहस

मुंबई और बडौदा के बीच खेले गए इस मैच में मुंबई की जीत से भी ज्यादा आखिरी दिन भारत के दो सीनियर खिलाड़ियों की बीच बहसबाजी ने सुर्खियां बटोरी जिसमें एक फैसले को लेकर दो खिलाड़ी आपस में बहस करते दिखे।

मुंबई-बड़ौदा रणजी मैच में युसुफ पठान और अजिंक्य रहाणे के बीच इस बात को लेकर बहस 1

यहां बड़ौदा और मुंबई के बीच खेले गए इस मैच में बहसबाजी में मुंबई के अनुभवी खिलाड़ी अजिंक्य रहाणे और बड़ौदा के दिग्गज बल्लेबाज युसुफ पठान के बीच आउट के फैसले को लेकर काफी देर तक बहस चलती रही।

युसुफ पठान और अजिंक्य रहाणे के बीच हुई बहस

बड़ौदा में खेले गए इस मैच में मुंबई के खिलाफ आखिरी दिन हार टालने के लिए खेल रही बडौदा की टीम संघर्ष कर रही थी। तभी क्रीज पर अनुभवी बल्लेबाज युसुफ पठान अपनी तरफ से कोशिश कर रहे थे। युसुफ पठान से बड़ौदा को आस भी थी। लेकिन मैच में बड़ौदा की पारी के 48वें ओवर में शशांक अटरदे की गेंद पर युसुफ पठान को कैच आउट करार दिया.

मुंबई-बड़ौदा रणजी मैच में युसुफ पठान और अजिंक्य रहाणे के बीच इस बात को लेकर बहस 2

इस आउट से युसुफ पठान बिल्कुल भी खुश नहीं दिखे। युसुफ पठान ने हैरानी जताते हुए काफी देर तक क्रीज पर मौजूद रहे। तभी मुंबई और भारत के अनुभवी खिलाड़ी अजिंक्य रहाणे आउट देने के बाद भी क्रीज पर खड़े युसुफ पठान के पास पहुंचे। दोनों के बीच यहां काफी देर पर आउट के फैसले को लेकर बहस होती रही।

युसुफ-रहाणे की बहस के बीच पृथ्वी शॉ रहे मुंबई की जीत के हीरो

इस बहस ने तो इस मैच में खास सुर्खियां बटोरी लेकिन दूसरी तरफ भारत के उभरते युवा सितारें पृथ्वी शॉ के नाम ये मैच रहा। पृथ्वी शॉ ने बडौदा के खिलाफ जबरदस्त बल्लेबाजी करते हुए दोनों ही पारियों में तूफानी प्रदर्शन कर जीत में बड़ा योगदान दिया और नायक साबित हुए।

मुंबई-बड़ौदा रणजी मैच में युसुफ पठान और अजिंक्य रहाणे के बीच इस बात को लेकर बहस 3

भारतीय टीम से बाहर पृथ्वी शॉ ने बडौदा के गेंदबाजों की जमकर धुनाई करते हुए पहली पारी में 66 रन बनाए तो दूसरी पारी में खतरनाक रूप से 179 गेंदों में ही 202 रनों की पारी खेली। पृथ्वी ने अपनी बल्लेबाजी से एक बार फिर से टीम इंडिया में वापसी का दावा ठोंक दिया है।

Related posts