युवराज सिंह

विश्व क्रिकेट में सिक्सर किंग के नाम से पहचाने जाने वाले युवराज सिंह ने पिछले साल जून में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कह जिंदगी में आगे बढ़ने का फैसला किया। लेकिन अब पंजाब की घरेलू टीम को युवी की कमी महसूस हो रही है। जी हां, पंजाब क्रिकेट संघ ने भारत के पूर्व  ऑलराउंडर युवराज सिंह से प्रदेश की टीम का खिलाड़ी और मेंटर बनने का आग्रह किया गया है। हालांकि इसपर अब तक युवी ने कोई जवाब नहीं दिया है।

युवराज सिंह से संन्यास वापसी का किया आग्रह

युवराज सिंह

2019 में जब टीम इंडिया, इंग्लैंड में विश्व कप खेल रही थी, तब युवराज सिंह ने 10 जून को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास का ऐलान कर दिया था। लेकिन अब पंजाब क्रिकेट संघ के सचिव पुनीत बाली ने शुक्रवार को युवराज से संन्यास से वापसी करने की बात कही है। बाली ने कहा,

‘हमने पांच छह दिन पहले युवराज से अनुरोध किया और उनके जवाब का इंतजार है। अगर वह मान लेते हैं तो पंजाब क्रिकेट के लिए यह बहुत अच्छा होगा।’

टीम को खली युवराज सिंह की कमी, अब कर रहे हैं वापसी की उम्मीद 1

युवराज सिंह ने खेली विदेशी लीग

भारत के लिए टी20 विश्व कप 2007 व 2011 एकदिवसीय विश्व कप में मैच विनिंग प्रदर्शन करने वाले युवराज सिंह ने संन्यास के बाद बीसीसीआई से विदेशी लीगों में खेलने की अनुमति मांगी थी। बोर्ड ने खिलाड़ी को एनओसी दे दी थी। जिसके बाद युवी विदेशी फ्रेंचाइजी लीगों में कमाल दिखाते नजर आए। वह अबु धाबी टी10, ग्लोबल टी20 लीगों में अपना दमखम दिखा चुके हैं।

अब ऐसे में युवी के लिए संन्यास से वापसी करना बेहद मुश्किल है। क्योंकि बोर्ड के नियमानुसार, पूरी तरह से संन्यास लेने के बाद ही विदेशी लीगों में हिस्सा ले सकते हैं और युवी ऐसा कर चुके हैं।

युवराज सिंह का क्रिकेट करियर

युवराज सिंह

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व दिग्गज खिलाड़ी युवराज सिंह का नाम भारतीय क्रिकेट के इतिहास में सुनहरे अक्षरों से लिखा गया है। युवी ने भारत के लिए 40 टेस्ट, 304 वनडे व 58 टी20 आई मैच खेले हैं। जिसमें उन्होंने क्रमश: 1900, 8701 व 1177 रन बनाए हैं। साथ ही युवी ने अपने वनडे करियर में 111 विकेट व 28 टी20आई विकेट लिए हैं।

युवराज को 2017 के बाद से टीम इंडिया के लिए खेलने का मौका नहीं मिला, लेकिन खिलाड़ी ने 2 साल तक कॉल का इंतजार किया। फिर अपने इंतजार को खत्म करते हुए युवी ने 10 जून 2019 को संन्यास का ऐलान कर दिया।