युवराज सिंह को इंजमाम-उल-हक की याद दिलाते हैं रोहित शर्मा, खुद युवी ने किया खुलासा 1

टीम इंडिया के पूर्व विस्फोटक ऑलराउंडर खिलाड़ी युवराज सिंह इन दिनों अपने बयानों को लेकर काफी सुर्खियां बटोर रहे हैं. ये कहना गलत नहीं होगा कि युवी ने जून में जबसे संन्यास लिया है वह पहले से अधिक मुखाग्र हो गए हैं. इसी क्रम में अब युवराज ने एक इंटरव्यू के दौरान कहा है कि रोहित शर्मा को बल्लेबाजी करते देखकर उन्हें पाकिस्तान क्रिकेट टीम के पूर्व खिलाड़ी इंजमाम उल हक की याद आती है.

‘रोहित को देख आती है इंजमाम की याद’

युवराज सिंह

युवराज सिंह ने अपने क्रिकेट करियर में बड़ी-बड़ी उपलब्धियां हासिल की. अब जबकि वह संन्यास ले चुके हैं फिर भी अपने बयानों के चलते वह खबरों में बने रहते हैं. अब गौरव कपूर के साथ एक यूट्यूब शो के दौरान युवराज ने कहा रोहित शर्मा की बल्लेबाजी के बारे में बात करते हुए कहा,

जब रोहित भारतीय टीम में आया तो मुझे लगा कि वो किसी खिलाड़ी की तरह लग रहा है जिसके पास खेलने के लिए बहुत समय हो.

उसने मुझे इंजमाम उल हक की याद दिलाई. क्योंकि इंजमाम जब खेलते थे तो उनके पास भी काफी समय होता था.

सौरव गांगुली ने किया सपोर्ट

युवराज सिंह

सिक्सर किंग युवराज सिंह ने सन् 2000 में टीम इंडिया में डेब्यू किया था. ऑलराउंडर खिलाड़ी ने इसके बाद अपने क्रिकेट करियर में कई बड़े कारनामे कर दिखाए. अब स्टार स्पोर्ट्स को दिए एक खास इंटरव्यू में युवी ने अपना बेस्ट कप्तान सौरव गांगुली को चुनते हुए कहा,

मैं काफी समय तक सौरव गांगुली की कप्तानी में खेला हूं और उन्होंने मेरा काफी सपोर्ट किया है इसके बाद माही ने कप्तानी ली.

ऐसे में ये चुन पाना काफी कठिन है कि कौन अच्छा है. सौरव के के साथ मेरी तमाम यादें जुड़ी हैं क्योंकि उन्होंने मेरा सपोर्ट दिया. मुझे माही और विराट (कोहली) से इस तरह का समर्थन नहीं मिला.

युवराज ने की पुलिस के काम की सराहना

दिन-प्रतिदिन भारत में कोरोना का संक्रमण बढ़ता जा रहा है. मगर इन सबके बीच पुलिस, डॉक्टर, मीडिया व बैंक कर्मचारियों को रोजाना घर से बाहर निकलना ही पड़ रहा है. सोशल मीडिया पर एक वीडियो काफी वायरल हो रहा है जिसमें पुलिसकर्मी खाना शेयर कर रहे हैं.

इस वीडियो को युवराज ने सोशल मीडिया पर शेयर करते हुए लिखा- इन पुलिसकर्मियों की ओर से किए मानवता भरे इस काम को देखकर बेहद खुशी होती है. इस मुश्किल समय में अपना खाना साझा करना और उनकी दयालुता देख इनके लिए सम्मान पैदा होता है.