युवराज सिंह ने कहा था महेंद्र सिंह धोनी ने नहीं किया सपोर्ट

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

युवराज सिंह ने कहा था महेंद्र सिंह धोनी ने नहीं किया सपोर्ट, तो अब आशीष नेहरा ने माही के बचाव में कही ये बात 

युवराज सिंह ने कहा था महेंद्र सिंह धोनी ने नहीं किया सपोर्ट, तो अब आशीष नेहरा ने माही के बचाव में कही ये बात

भारतीय टीम के दिग्गज बल्लेबाजों में से एक रहे युवराज सिंह ने हालिया बयान में कहा था कि उन्हें सौरव गांगुली की कप्तानी में जैसा समर्थन मिला था, वैसा महेंद्र सिंह धोनी या विराट कोहली की कप्तानी में नहीं मिला, लेकिन उनके साथी खिलाड़ी और पूर्व तेज गेंदबाज आशीष नेहरा का कुछ और ही कहना है.

युवराज, धोनी की कप्तानी में सबसे अच्छा खेला

युवराज सिंह ने कहा था महेंद्र सिंह धोनी ने नहीं किया सपोर्ट, तो अब आशीष नेहरा ने माही के बचाव में कही ये बात 1

स्टार स्पोर्ट्स से बातचीत में आशीष नेहरा ने युवराज सिंह के उस बयान को लेकर कहा, “युवराज ने धोनी की कप्तानी में अच्छा खेला था, जहां तक मैंने युवराज का करियर देखा है, जिस तरह से वो 2007 और 2008 में खेला वो शानदार था.

2011 में हमने देखा कि बीमारी के बावजूद भी वो धोनी की कप्तानी में दिलेरी से खेला. मुझे लगता है कि 16 साल तक क्रिकेट खेलने के बाद हर खिलाड़ी का अपना पसंदीदा कप्तान होता है और मेरे हिसाब से युवराज, धोनी की कप्तानी में सबसे अच्छा खेला.”

भारतीय क्रिकेट के सबसे बड़े मैच विनर में से एक

युवराज सिंह ने कहा था महेंद्र सिंह धोनी ने नहीं किया सपोर्ट, तो अब आशीष नेहरा ने माही के बचाव में कही ये बात 2

युवराज सिंह ने अंडर-19 विश्व कप  टी-20 विश्व कप और विश्व कप तीनों ख़िताब जीते हुए हैं. बता दें, कि उन्होंने साल 2000 में अंडर-19 विश्व कप में ‘मैन ऑफ़ द टूर्नामेंट’ का खिताब जीता था. वहीं साल 2011 के विश्व कप में भी वह ‘मैन ऑफ़ द टूर्नामेंट’ रहे थे. उनके दमदार ऑलराउंड प्रदर्शन के दम पर ही भारत इस विश्व कप को जीत पाया था.

उन्होंने 2011 विश्व कप के 9 मैचों की 8 पारियों में 90.5 की शानदार औसत के साथ कुल 362 रन बनाये थे और इस दौरान उनका स्ट्राइक रेट 86.19 का रहा था. उन्होंने विश्व कप 2011 में कुल एक शतक और 4 अर्धशतक लगाये थे. उन्होंने गेंद के साथ भी कमाल दिखाते हुए विश्व कप 2011 में कुल 15 विकेट हासिल किये थे.

2007 टी20 वर्ल्ड कप के इसी मैच में इंग्लैंड के खिलाफ युवराज सिंह ने 6 गेंद में 6 छ्क्के भी लगाए थे. उन्होंने एक मैच में इंग्लैंड के खिलाफ मात्र 12 गेंदों में अर्द्धशतक जमा दिया था.

Related posts