युवराज सिंह के पिता योगराज ने कप्तान धोनी पर लगाया गंभीर आरोप

आईपीएल – 8 की नीलामी में सबसे महंगी बोली पर बिकने वाले युवराज़ सिंह के पिता योगराज सिंह ने सोमवार को टीम इंडिया के कप्‍तान महेंद्र सिंह धोनी पर तीखी प्रतिक्रिया देते हुए कहा, ‘टीम इंडिया के कप्तान धोनी को मेरे बेटे से क्या परेशानी है? जबकि युवराज ने देश को 2011 विश्व कप में जीतते हुए मैन ऑफ द टूर्नामेंट खिताब भी जीता था।‘

योगराज ने पत्रकारों से बातचीत में धोनी पर इलज़ाम लगाते हुए यह तक कह डाला की धोनी नहीं चाहते कि मेरा बेटा टीम इंडिया में वापसी कर सके।

उन्होंने आगे कहा, “युवराज ऑस्ट्रेलिया-न्यूज़ीलैंड जाता है वहां जाकर अच्छा प्रदर्शन भी करता है। सुनील गावस्कर कहते हैं कि वो इस दौरे की खौज हैं। लेकिन फिर भी सीरीज़ के बाद युवराज को टीम से बाहर कर दिया गया। इतना ही नहीं उसे हरियाणा की स्टेट टीम से भी बाहर कर दिया गया।”

योगराज ने कप्तान धोनी पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा, “धोनी को ये भी ध्यान रखना चाहिए की युवराज ने उसके साथ मिलकर नब्बे प्रतिशत से ज्यादा मैच जिते हैं। ये खेल है जो आज है कल नहीं। इसलिए धोनी इस लड़ाई को निजी ना बनाए।” योगराज इतने पर ही नहीं रूके उन्होनें धोनी के माता-पिता को भी अपने बेटे को समझाने की सलाह देते हुए कहा, “वो धोनी को समझाएं कि इस लड़ाई को निजी ना बनाए।”

योगराज के मुताबिक युवराज हमेशा ही धोनी की तारीफ करता है, लेकिन इसके विपरीत धोनी का रवैया युवराज़ के प्रति अच्‍छा नहीं है।

योगराज के इस गंभीर बयान के बाद सफाई देते हुए युवराज़ ने ट्वीट में लिखा है की हर माता-पिता की तरह मेरे पिता भी मेरे लिए पेशनएट हैं। जबकि मैंने हमेशा माही की कप्तानी में खेलना एंज्वॉय किया है और आगे भी करता रहूंगा।

Related Topics