सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी : रोमांचक मुकाबले में मध्य क्षेत्र की जीत | Sportzwiki Hindi

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी : रोमांचक मुकाबले में मध्य क्षेत्र की जीत 

सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी : रोमांचक मुकाबले में मध्य क्षेत्र की जीत

मुंबई, 15 फरवरी (आईएएनएस)| मध्य क्षेत्र ने सैयद मुश्ताक अली टी-20 टूर्नामेंट में वानखेड़े स्टेडियम में खेले गए रोमांचक मुकाबले में उत्तर क्षेत्र को चार रनों से हरा दिया। मध्य क्षेत्र ने मयंक रावत के 57 रनों की मदद से निर्धारित 20 ओवरों में सात विकेट के नुकसान पर 167 रन बनाए थे। उत्तर क्षेत्र की टीम इस लक्ष्य को हासिल नहीं कर पाई और पूरे ओवर खेलने के बाद छह विकेट पर 163 रन ही बना सकी।

आखिरी ओवर में उत्तर क्षेत्र की जीत के लिए 21 रनों की दरकार थी लेकिन उसके बल्लेबाज 16 रन ही बना सके। हैमिल्टन वनडे : न्यूजीलैंड ने सीरीज अपने नाम की , रॉस टेलर ने रिकार्ड्स, युवराज सिंह को पछाड़ हासिल किया उनका स्थान

लक्ष्य का पीछा करने उतरी उत्तर क्षेत्र की टीम को गौतम गंभीर (20) और शिखर धवन (32) ने सधी हुई शुरुआत दी। दोनों ने मिलकर पहले विकेट के लिए 48 रन जोड़े। गंभीर को लेग स्पिनर कर्ण शर्मा ने पवेलियन पहुंचाया।

कप्तान हरभजन सिंह (1) दो रन बाद ही कर्ण की गेंद पर बड़ा शॉट मारने की कोशिश में सीमा रेखा के पास लपके गए। युवा ऋषभ पंत ने अच्छे हाथ दिखाए और 13 गेंदों में 25 रन जोड़े। वह भी बड़ा शॉट खेलने की कोशिश में अपना विकेट गंवा बैठे। पंत से पहले धवन भी पवेलियन लौट गए थे।

उत्तर क्षेत्र को युवराज सिंह से काफी उम्मीदें थी। युवराज ने आते ही अपने चिर-परिचित अंदाज में बल्लेबजी करते हुए 20 गेंदों में चार चौकों की मदद से 33 रनों की पारी खेली। अनिकेत चौधरी ने युवराज को अपना शिकार बना मध्य क्षेत्र को राहत दी।

अंत में मनप्रीत गोनी ने नौ गेंदों में दो छक्के और दो चौके की मदद से 23 रनों की पारी खेल टीम को जीत दिलाने की कोशिश की लेकिन वह असफल रहे।

इससे पहले टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी मध्य क्षेत्र की शुरुआत बेहद खराब रही। उसने 40 रनों पर ही अपने तीन विकेट गंवा दिए। कप्तान नमन ओझा हालांकि एक छोर पर खड़े हुए थे। उन्होंने रावत के साथ मिलकर चौथे विकेट के लिए 52 रन जोड़ टीम को संकट से उबारा।

नमन 92 के कुल स्कोर पर पवेलियन लौटे। हरभजन ने उन्हें अर्धशतक पूरा नहीं करने दिया। उनके जाने के बाद रावत एक छोर पर अकेले खड़े रहे और टीम को सम्मानजनक स्कोर प्रदान करते हुए नाबाद लौटे। उन्होंने अपनी पारी में 40 गेंदों में छह चौके और एक छक्का लगाया। अंत में अमित मिश्रा ने भी तेजी से रन बटोरे। भारतीय टीम के मुख्य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद युवराज सिंह को लेकर यह क्या बोल बैठे

उत्तर क्षेत्र की तरफ से आशीष नेहरा ने सर्वाधिक तीन विकेट लिए। हरभजन को दो सफलता मिलीं।

नॉर्थ जोन के कप्तान हरभजन सिंह ने नंबर तीन पर ऋषभ पंत या युवराज सिंह को न भेजकर खुद बल्लेबाज़ी करने का फैसला किया, जो आखिर में टीम के खिलाफ गया और अब टीम को इस सीरीज से बाहर होना पड़ा।

Related posts