क्रिकेट में क्या होता है हैंडल द बॉल?

Trending News

Blog Post

क्रिकेट ज्ञान

क्रिकेट में क्या होता है हैंडल द बॉल? ऐसा करने पर मिलती है ये सजा 

क्रिकेट में क्या होता है हैंडल द बॉल? ऐसा करने पर मिलती है ये सजा

क्रिकेट का खेल देखने में जितना आसान दिखता है, उनके नियम उतने ही पेचीदें हैं। इस खेल के कई नियम आज भी लोगों को नहीं पता है। इन्हीं में से एक नियम ‘हैंडल द बॉल’ है। यह बल्लेबाजों को आउट देने का एक तरीका भी है। 2017 में आईसीसी ने इसे ऑब्सट्रक्टिंग द फील्ड के नियम में ही शामिल कर दिया था।

क्या है हैंडल द बॉल

क्रिकेट में क्या होता है हैंडल द बॉल? ऐसा करने पर मिलती है ये सजा 1
हैंडल द बॉल

 

मैरीलेबोन क्रिकेट क्लब (MCC) द्वारा बनाये गये लॉ ऑफ़ क्रिकेट में हैंडल द बॉल आउट होने का एक तरीका है। लॉ 33 के अनुसार एक बल्लेबाज गेंद को खेलने के बाद अगर जानबूझ कर बल्ले या हाथ से गेंद की दिशा बदलने की कोशिश करता है तो उसे आउट दिया जाता है।

अगर बल्लेबाज चोटिल होने से बचने के लिए गेंद को हाथ का बल्ले से रोकता है, तो वह नॉट आउट करार दिया जाएगा। रन आउट की तरह ही अगर बल्लेबाज ऐसे आउट होता है तो गेंदबाज को इसका श्रेय नहीं मिलता।

पहली बार दक्षिण अफ्रीका के बल्लेबाज हुए आउट

क्रिकेट में क्या होता है हैंडल द बॉल? ऐसा करने पर मिलती है ये सजा 2
हैंडल द बॉल

इंटरनेशनल क्रिकेट में दक्षिण अफ्रीका के बल्लेबाज रसेल एंडियन को आउट दिया गया था। यह मैच 1 जनवरी 1957 को इंग्लैंड के खिलाफ खेला गया था। इस मैच में रसेल ने सिर्फ 3 रन बनाये थे।

वनडे मैचों की बात करें तो भारतीय टीम के पूर्व ऑलराउंडर मोहिंदर अमरनाथ पहली बार ऐसे आउट हुए थे। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मेलबर्न में वह 15 रन बनाकर हैंडल द बॉल की वजह से आउट दिए गये थे।

हैंडल द बॉल बनाम ऑब्सट्रक्टिंग द फील्ड

क्रिकेट में क्या होता है हैंडल द बॉल? ऐसा करने पर मिलती है ये सजा 3
ऑब्सट्रक्टिंग द फील्ड

एक बल्लेबाज को हैंडल द बॉल के तहत उस समय आउट दिया जाता है जब वह पूरा शॉट खेलने से पहले ही गेंद को हाथ या बल्ले से रोकता है। वहीं अगर बल्लेबाज गेंद को पूरी तरह खेल देने के बाद गेंद को रोकता है तो वह ऑब्सट्रक्टिंग द फील्ड की तरह आता है।

अभी तक इंटरनेशनल क्रिकेट में 10 बल्लेबाज को हैंडल द बॉल की वजह से आउट दिया गया है। इसमें तीन वनडे और सात टेस्ट मैच में हुए हैं। इन नियमों पर लगातार विवाद भी होते रहे हैं क्योंकि यह फैसला पूरी तरह अंपायर पर होता है।

देखें वीडियो:

 

अगर आपको हमारा आर्टिकल पसंद आया, तो प्लीज इसे लाइक करें। अपने दोस्तों तक ये खबर सबसे पहले पहुंचाने के लिए शेयर करें और साथ ही अगर आप कोई सुझाव देना चाहते हैं, तो प्लीज कमेंट करें। अगर आपने अब तक हमारा पेज लाइक नहीं किया हैं, तो कृपया अभी लाइक करें, जिससे लेटेस्ट अपडेट हम आपको जल्दी पहुंचा सकें।

Related posts