फीफा से आई दुखद खबर, मैक्सिको के समर्थक पहुचे अस्पताल

Trending News

Blog Post

फुटबॉल

फीफा विश्वकप 2018: मैच देखने आये मैक्सिको के प्रसंशको के साथ हुआ दर्दनाक हादसा, जाना पड़ा अस्पताल 

फीफा विश्वकप 2018: मैच देखने आये मैक्सिको के प्रसंशको के साथ हुआ दर्दनाक हादसा, जाना पड़ा अस्पताल

फीफा का फीवर फ़ुटबाल समर्थकों पर सर चढ़कर बोल रहा है. 14 जून से 15 जुलाई तक चलने वाले फीफा वर्ल्डकप में लोग अपने खिलाडियों और देश के समर्थन के लिए भारी मात्रा में स्टेडियम में पहुचकर उपस्थिति दर्ज करा रहे है. फीफा का जबरदस्त रसिया की सड़कों पर देखने को मिल रहा है. भारी मात्रा में मैच शुरू होने से पहले हुजूम सड़को पर नजर आता है.

 

फीफा विश्वकप 2018: मैच देखने आये मैक्सिको के प्रसंशको के साथ हुआ दर्दनाक हादसा, जाना पड़ा अस्पताल 1

 

आपको बता दे कि आज इस प्रकार की घटना सामने आई जिससे लोगों का मन द्रवित हो गया. मैक्सिको के कुछ फ़ुटबाल प्रेमी अपनी टीम के समर्थन के लिए स्टेडियम की ओर बढ़ रहे थे,  तभी अचानक एक अनियंत्रित टैक्सी ने 8 लोगों को कुचल दिया.

इसके बाद वहां पर मौजूद लोगों में अफरातफरी का माहौल बन गया. स्टेडियम जाने के बजाय इन लोगों को तुरंत अस्पताल ले जाया गया जहाँ पर 7  लोगों की तबियत स्थिर है जबकि एक महिला की हालत गंभीर बतायी जा रही है.

 

फीफा विश्वकप 2018: मैच देखने आये मैक्सिको के प्रसंशको के साथ हुआ दर्दनाक हादसा, जाना पड़ा अस्पताल 2

 

बीबीसी की रिपोर्ट में यह बताया गया है कि सीसीटीवी में जो फुटेज सामने आई है उसमें साफ़ तौर पर ये दिखाई दे रहा है की वहां पर मौजूद लोगों को ये कार टक्कर मारती हुई नजर आ रही है.

मास्को पुलिस ने बताया की चालक जो कि किर्गिस्तान का रहने वाला है, उसे तुरंत गिरफ्तार कर लिया कर लिया गया है  और उससे पूछताछ जारी है. शहर के मेयर ने बताया कि चालक का गाडी पर से नियंत्रण खो गया था जिसके चलते इस प्रकार की घटना सामने आई.

 

 

रुस की समाचार एजेंसी इंटरफैक्स ने बताया कि चालक को गाडी चलाते समय नींद आ गयी थी जिसके चलते उसका गाडी के साथ संतुलन बिगड़ गया और इस प्रकार की घटना सामने आई. इनके अनुसार घायल हुए 8 लोगों में 7 की हालत स्थिर है जबकि 1 महिला की हालत गंभीर बताई जा रही है.

आपको बता दे कि इस बार का आयोजन रुस में बड़े ही भव्य तरीके से किया जा रहा है. इसके बीच इस तरह की घटना लोगों के जेहन में डर का माहौल पैदा करती है. इससे सबक लेते हुए रूस की सरकार को समर्थकों की हिफाजत को लेकर कड़े कदम उठाने चाहिए.

Related posts

Leave a Reply