आईएसएल : विनीत फिर चमके, केरल ने जीता 'साउदर्न डर्बी' | Sportzwiki Hindi

Trending News

Blog Post

फुटबॉल

आईएसएल : विनीत फिर चमके, केरल ने जीता ‘साउदर्न डर्बी’ 

आईएसएल : विनीत फिर चमके, केरल ने जीता ‘साउदर्न डर्बी’

कोच्चि, 12 नवंबर (आईएएनएस)| सीके विनीत के दो गोलों की मदद से केरला ब्लास्टर्स ने शनिवार को जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में खेले गए इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के तीसरे संस्करण के अपने 10वें दौर के मुकाबले मे चेन्नयन एफसी को 3-1 से हरा दिया। विनीत ने 8 नवम्बर को सीजन तीन का आगाज करते हुए एफसी गोवा के खिलाफ अंतिम मिनट में गोल कर केरल को शानदार जीत दिलाई थी और अब दो मैचों से तीन गोल करते हुए वह सुपरस्टार बन गए हैं।

यह विनीत का ही शानदार प्रदर्शन है कि ‘साउदर्न डर्बी’ का नतीजा एकतरफा रहा। केरल को लगातार दूसरी जीत मिली जबकि मौजूदा चैम्पियन को लगातार दूसरी हार का सामना करना पड़ा।

इस जीत ने केरल को आठ टीमों की तालिका में पांचवें से दूसरे स्थान पर पहुंचा दिया है। उसके खाते में 10 मैचों से 15 अंक हो गए है। मुम्बई सिटी एफसी के भी 15 अंक हैं लेकिन चूंकी केरल ने मुम्बई को इस सीजन में हराया है, लिहाजा उसे फायदा मिला। चेन्नई की टीम पहली की तरह सातवें स्थान पर ही है।

यह भी पढ़े : आईएसएल : घर में हैट्ट्रिक का मकसद लेकर कोलकाता से भिड़ेगा दिल्ली

यह अलग बात है कि मेहमान टीम ने मैच की शुरुआत आक्रामक अंदाज में की और घरेलू टीम से अधिक संतुलित तथा खतरनाक नजर आई लेकिन दूसरे हाफ में अपने बेहतरीन खेल की बदौलत केरल ने परिणाम अपने पक्ष में किया।

मैच का पहला गोल चेन्नई के बेर्नार्ड मेंडी ने 22वें मिनट में किया था लेकिन इसके बाद का खेल पूरी तरह केरल के नाम रहा। उसने 67वें, 85वें और 89वें मिनट में गोल करते हुए मैच अपने नाम किया।

मेंडी ने मैच का पहला गोल रफाएल अगस्तो सांतोस दा सिल्वा के पास पर किया था। मेंडी ने बाएं किनारे से मेंडी से मिले पास पर तेज दौड़ लगाई और बाक्स में घुस गए। मेंडी ने एक जोरदार किक लगाया लेकिन वह केरल के कप्तान सेड्रिक हेंगबार्ट से डिफलेक्ट हो गई। गोलकीपर ग्राहम स्टाक गेंद की दिशा में थे लेकिन डिफलेक्शन ने उन्हें भ्रमित कर दिया और वह उसे रोकने की दिशा में कुछ नहीं कर सके।

पहले हाफ में केरल की टीम सही मायने में एक बार भी चेन्नई के गोलकीपर ड्वायन केर को परेशान करने में सफल नहीं हुई। उसे उलटा नुकसान हो गया। इस सीजन में उसके सबसे अच्छे फारवर्ड केरवेंस बेलफोर्ट को ग्रोइन इंजुरी के कारण मैदान से बाहर जाना पड़ा।

दूसरे हाफ में केरल ने आक्रामक शुरुआत की। 46वें मिनट में उसने माइकल चोपड़ा की जगह बोरिस केडियो को मैदान में उतारा। 54वें मिनट में उसके फारवर्ड टिमोथी जर्मन को पीला कार्ड दिखाया गया। केडियो ने मैदान में अपनी उपस्थिति को दर्ज कराते हुए और जर्मन ने पीला कार्ड दिखाए जाने के बाद संयमित खेल दिखाते हुए अपनी टीम को बराबरी दिलाई। केरल ने 67वें मिनट में बराबरी का गोल किया।

यह गोल रफाएल अगस्तो के फाउल का नतीजा था। फाउल के बाद केरल को फ्रीकिक मिला। यह फ्रीकिक बेकार गया लेकिन काडियो ने तीन मिनट बाद गोलपोस्ट के बिल्कुल करीब से जर्मन की ओर से मिले समझदारी भरे पास पर गोल करते हुए अपनी टीम को बराबरी दिला दी।

विनीत ने 80वें मिनट के बाद अपने खेल में गजब की तेजी दिखाई। इस मिनट में वह गोल करने से चूक गए थे लेकिन 85वें और 89वें मिनट में उन्होंने गोल करते हुए अपनी टीम की जीत पक्की कर दी। विनीत ने दूसरा गोल जर्मन के पास पर किया।

जर्मन ने मैदान के मध्य से विनीत को पास दिया और एक लम्बी दौड़ लगाते हुए विनीत अंतत: केर को छकाने में सफल रहे और अपनी टीम के प्रशंसकों के लिए ‘साउदर्न डर्बी’ का रोमांचक समापन किया। इन दोनों टीमों के बीच इस सीजन का पहला मैच गोलरहित ड्रॉ रहा था।

Related posts