केआइवाइजी : पहले दिन दिल्ली के पहलवानों ने जीते 5 स्वर्ण पदक
Connect with us

मोर

केआइवाइजी : पहले दिन दिल्ली के पहलवानों ने जीते 5 स्वर्ण पदक

Cultural Heritage of Maharashtra, seen at the inauguration ceremony of India

पुणे, 9 जनवरी: खेलो इंडिया यूथ गेम्स (केआइवाइजी)-2019 के पहले दिन बुधवार को दिल्ली के पहलवानों ने अपना जलवा दिखाया तो वहीं भारोत्तोलन स्पर्धा में कई नए रिकॉर्ड बनते देखे गए। यहां बेलवाड़ी स्थित शिव छत्रपति स्टेडियम में खेले गए मुकाबले में मेजबान महाराष्ट्र ने चार में से तीन स्वर्ण पदक अपने नाम किए जबकि ओडिशा के हिस्से में एक स्वर्ण आया। ओडिशा के लिए यह स्वर्ण भक्तराम दस्ती ने पुरुषों के अंडर-17 वर्ग के 49 किलोग्राम भार वर्ग में जीता। भक्तराम का इन खेलों में यह पहला पदक है। भारोत्तोलान में चार भारवर्ग में प्रतिस्पर्धा हुई जिनमें से तीन भारवर्ग में नए रिकार्ड बने।

जहां भारोत्तोलन में महाराष्ट्र का दबदबा रहा तो वहीं ग्रीको-रोमन कुश्ती में दिल्ली ने अपनी दबंगई साबित की। दिन के 10 स्वर्ण पदक के मुकाबलों में दिल्ली ने पांच स्वर्ण पदकों पर कब्जा जमाया। इसके अलावा हरियाणा ने कुश्ती में दो स्वर्ण और महाराष्ट्र, मणिपुर तथा पंजाब ने एक-एक स्वर्ण पदक अपने नाम किए।

पहलवान नीरज ने यू-17 वर्ग के 65 किग्रा में, रवि ने 71 किग्रा में, विजेन्दर ने 80 किग्रा में, नवीन पूनिया ने 92 किग्रा में और सचिन राणा ने यू-21 वर्ग के 60 किग्रा में दिल्ली के लिए स्वर्ण जीते।

हरियाणा के रवि ने यू-17 वर्ग के 60 किग्रा में और प्रदीप कुमार ने यू-21 वर्ग के 55 किग्रा में स्वर्ण पदक हासिल किया।

दिन की समाप्ति पर दिल्ली के खाते में पांच स्वर्ण, मेजबान महाराष्ट्र के खाते में चार स्वर्ण, हरियाणा के दो जबकि मणिपुर, जम्मू-कश्मीर, उत्तर प्रदेश और पश्चिम बंगाल के हिस्से एक-एक सोने का तमगा आया।

भारोत्तोलन में महिलाओं की यू-17 वर्ग के 40 किलोग्राम भार वर्ग में महाराष्ट्र की सौम्या दालवी ने अपने रिकॉर्ड में सुधार करते हुए स्वर्ण हासिल किया। महिलाओं के भरोत्तोलान में आज के दिन सिर्फ एक ही मुकाबला हुआ। उन्होंने अपनी टीम की ही अराती तातगुनती को हराकर स्वर्ण पदक जीता। पुरुष वर्ग में शुभम कोलकर ने यू-21 वर्ग के 55 किग्रा में स्वर्ण अपने नाम किया।

इसके अलावा अभिषेक महाजन ने भी यू-17 वर्ग के 55 किग्रा में महाराष्ट्र को स्वर्ण दिलाया। भक्तराम दस्ती ने यू-17 वर्ग के 49 किग्रा में स्वर्ण पदक जीता।

वहीं, मंगलवार देर रात खेले गए जिमनास्टिक स्पर्धा में उत्तर प्रदेश के मोहम्मद रफी और पश्चिम बंगाल के लिए प्रतिष्ठा सामंता ने एक-एक स्वर्ण जीते। बुधवार को खेले गए मुकाबले में बवलीन कौर ने यू-17 वर्ग में जम्मू कश्मीर को पहला स्वर्ण पदक दिलाया। उन्होंने महाराष्ट्र की श्रेया भांगले और कृषा चेदा को हराया।

रफी ने 68.25 के स्कोर के साथ पहला स्थान हासिल किया तो वहीं राज यादव ने 67.50 के स्कोर के साथ दूसरे स्थान पर रहे और उन्हें रजत पदक से संतोष करना पड़ा। दिल्ली के तुषार काल्याण ने 66.90 के कुल स्कोर के साथ कांस्य पदक जीता। तुषार ने पिछले साल भी खेलो इंडिया स्कूल गेम्स में कांस्य पदक जीता था।

महिला वर्ग में प्रतिष्ठा सामंता ने यू-17 में महाराष्ट्र की बहनों सिद्धि और रीद्धि हाटेकर को हराकर इस वर्ग में शीर्ष स्थान हासिल किया। सामंता ने वोल्ट में 13.00 का और अनइवन बार्स में 7.10 का स्कोर किया।

मणिपुर को एकमात्र पदक कुश्ती में मिली। मणिपुर के लिए यह पदक खुंडोंगबाम लोयानगांबा ने सिंह ने यू-17 वर्ग के 51 किलोग्राम भारवर्ग में हासिल किया।

Must See