धर्म के कानून का दिखा प्रभाव, ईरान की टीम ने कोच से नहीं, क्लिपबोर्ड से मिलाया हाथ

Trending News

Blog Post

न्यूज़

धर्म के कानून का दिखा प्रभाव, ईरान की टीम ने जीत के बाद कोच से नहीं, क्लिपबोर्ड से मिलाया हाथ 

धर्म के कानून का दिखा प्रभाव, ईरान की टीम ने जीत के बाद कोच से नहीं, क्लिपबोर्ड से मिलाया हाथ

मुस्लिम देश ईरान उन देशों में शामिल है जहां पर धर्म सबसे पहले आता है, फिर उसके बाद अन्य कोई चीज। धार्मिक कानून की सख्ती ऐसी की कोई भी देश देखकर हैरान हो जाए, ऐसा वाक्या क्रोएशिया में खेले गए टूर्नामेंट में देखने को मिला, जितनी चर्चा इसमें ईरान के जीतने की नहीं हो रही है, उससे भी ज्यादा चर्चा मैच जीतने के बाद उन्होंने जो किया उसकी उसकी चर्चा उस टूर्नामेंट में हो रही है।

पुरुष कोच के साथ नहीं मना सकी जीत का जश्न

ईरान

हालांकि मामला यह है कि क्रोएशिया में अमेरिका और ईरान के बीच टूर्नामेंट चल रहा था, इस मैच को ईरान ने 3-0 से जीत लिया था, लेकिन वह अपने जीत में अपने गुरू अथवा कोच को शामिल नहीं कर सकी, क्योंकि ईरान के धर्म के कानून के अनुसार कोई स्त्री किसी पराए पुरुष, जिसके साथ उसका कोई संबंध न हो, उसकों छू नहीं सकती है, शायद यही कारण है कि मैच के जीतने के बाद उन्होंने अपनी खुशी अपने गुरु से हाथ मिलाकर नहीं बल्कि उनके क्लिपबोर्ड से हाथ मिलाकर किया।

15 से ज्यादा देश ने लिया था टूर्नामेंट में हिस्सा

ईरान

क्रोएशिया में आयोजित हुआ वॉलीबॉल के ग्लोबल चैलेंज टूर्नामेंट में 15 देशों से ज्यादा देशों ने हिस्सा लिया था। यह टूर्नामेंट का 15 वां सीजन है। जिसमें अंडर 23 की कैटेगरी में ईरान की महिला टीम ने अमेरिका की महिला टीम को फाइनल मैच में मात दे दे दी , हालांकि मैच जीतने के बाद एक अनोखा दृश्य देखने को मिला, जिसकी चर्चा मैच से ज्यादा हुई। हालांकि यह कोई ईरान का पहला नियम नहीं की दुनिया आश्चर्यचकित हुई हो, इस तरह के कई ऐसे नियम हैं, जो जिसने दुनिया को सकते में डाल दिया। ईरान में ऐसा भी कानून है कि महिलाएं पुरुष फुटबॉल मैच भी स्टेडियम में नहीं देखने जा सकती।

इस टूर्नामेंट का उद्देश्य खेलों को बढ़ावा देना

  ईरान

इस टूर्नामेंट को कराने का बस एक ही उद्देश्य था, कि उत्तरी अमेरिका को में खेलों का बढ़ावा देना, साथ ईरान की महिलाओं के अंदर खेल का जज्बें को बढ़ाना ताकि वह आगे भी इसी अपने बेहतरीन खेल का परिचय दे सकें। जिसकी शुरूआत ईरान ने फाइनल में अमेरिका को 3-0 से हराकर खिताब अपने नाम कर लिया।

Related posts