दक्षिण अफ्रीका के दौरे को लेकर पहली बार बोले कोच रवि शास्त्री

Trending News

Blog Post

न्यूज़

रवि शास्त्री ने छिड़का भारतीय क्रिकेटप्रेमियों के जख्मों पर नमक, बोल गए विवादित बोल 

रवि शास्त्री ने छिड़का भारतीय क्रिकेटप्रेमियों के जख्मों पर नमक, बोल गए विवादित बोल

भारतीय क्रिकेट टीम की विराट कोहली की कप्तानी में दक्षिण अफ्रीका दौरे की शुरूआत पहले दो टेस्ट मैचों की हार के साथ हुई। पहले दो टेस्ट मैच हारने के बाद भारतीय टीम के हाथ से सीरीज भी निकल गई। इसके बाद भारतीय टीम पर तीसरे टेस्ट मैच में दबाव था, लेकिन जोहान्सबर्ग में भारतीय टीम ने जबरदस्त प्रदर्शन किया और यहीं से भारतीय टीम की किस्मत बदली।

रवि शास्त्री ने छिड़का भारतीय क्रिकेटप्रेमियों के जख्मों पर नमक, बोल गए विवादित बोल 1

तीसरे टेस्ट के बाद बदला भारतीय टीम का भाग्य 

जोहान्सबर्ग टेस्ट मैच की जीत भारत के लिए संजीवनी साबित हुई। इस जीत के टॉनिक ने भारतीय टीम के आगे के सफर के लिए मनोबल को बढ़ाया जो 6 मैचों की वनडे सीरीज के साथ ही 3 मैचों की टी-20 सीरीज में भी नजर आया और भारत ने दोनों सीमित ओवर की सीरीज पर कब्जा किया।

रवि शास्त्री ने छिड़का भारतीय क्रिकेटप्रेमियों के जख्मों पर नमक, बोल गए विवादित बोल 2

दक्षिण अफ्रीका दौरे को लेकर रवि शास्त्री की बड़ी प्रतिक्रिया

भारतीय टीम के मुख्य कोच रवि शास्त्री ने दक्षिण अफ्रीका दौरे की सफलता के बाद पहली बार अपने अनुभव को साझा किया। रवि शास्त्री ने कहा कि

हमेशा ही मुश्किल रहा है दक्षिण अफ्रीका दौरा

मुझे लगता है कि ये बहुत शानदार था। मैं भारत के हर दक्षिण अफ्रीकी दौरे पर गया हूं बस एक को छोड़कर(1996-97), मैं वहां पर पहली बार 25 साल पहले खिलाड़ी के तौर पर गया था और इसके बाद मैंने 2001-02 की ऑस्ट्रेलिया और दक्षिण अफ्रीका के बीच की सीरीज से कमेंटेटर के तौर पर जाता हूं। इनफेक्ट बात तो ये है कि दूसरे देशों के मुकाबले मैं सबसे ज्यादा दक्षिण अफ्रीका के दौरे पर ही गया हूं। तो मैं जानता हूं कि दक्षिण अफ्रीका दौरा कितना मुश्किल होता है।”

रवि शास्त्री ने छिड़का भारतीय क्रिकेटप्रेमियों के जख्मों पर नमक, बोल गए विवादित बोल 3

आखिर के 21 दिनों में खेली शानदार क्रिकेट

मुझे लड़को पर पर सबसे ज्यादा इस बात पर गर्व है कि उन्होंने आखिर के 21 दिनों में जबरदस्त क्रिकेट खेली। जो उस तरह की स्थिति में किसी भी दौरे पर भारतीय टीम के लिए अवास्तविक था। हर दिन उन्होंने मौके बनाए। 12 मैचों में से हमने 8 मैच जीते। क्या कहेंगे इस बारे में ? आप केवल इसके लिए लड़को को श्रेय दे सकते हैं।”

रवि शास्त्री ने छिड़का भारतीय क्रिकेटप्रेमियों के जख्मों पर नमक, बोल गए विवादित बोल 4

जब हम हारते हैं तो लोग होते हैं खुश

इसके साथ ही रवि शास्त्री ने आगे कहा कि

“हम हमेशा ही विश्वास करते हैं कि हम जीत सकते हैं। बहुत कम लोग इसे देख सकते हैं। लेकिन हम वो दोनों मैच(पहले दो टेस्ट) भी जीत सकते थे।  कई बार आपको अपने देश में ये महसूस होता है कि लोग खुश होते हैं जब आप हारते हैं। हमनें इस दौरान सेशन दर सेशन की गणना की और हम इसमें केवल दो सेशन ही पीछे रह गए जिसकी कीमत हमें पहले दो टेस्ट मैच में चुकानी पड़ी। इसके बाद मैंने कहा कि सकारात्मकता से खेलों और अगले टेस्ट मैच को जीतो, ड्रॉ के लिए नहीं, जीत के लिए। कई टीमों ने उस ट्रैक पर पहले बल्लेबाजी नहीं की होगी। क्योंकि ये बड़ा बुरा होता है।”

रवि शास्त्री ने छिड़का भारतीय क्रिकेटप्रेमियों के जख्मों पर नमक, बोल गए विवादित बोल 5

अगर आपको हमारा ये आर्टिकल पसंद आए तो प्लीज इसे लाइक और शेयर करें।

Related posts

Leave a Reply