एशियाई खेलों के लिए भारतीय टीम में जगह बनाना लक्ष्य : रोहित | Sportzwiki Hindi

Trending News

Blog Post

प्रो-कबड्डी

एशियाई खेलों के लिए भारतीय टीम में जगह बनाना लक्ष्य : रोहित 

एशियाई खेलों के लिए भारतीय टीम में जगह बनाना लक्ष्य : रोहित

बेंगलुरू बुल्स टीम के कप्तान और देश के सबसे प्रतिभाशाली रेडरों में से एक रोहित कुमार अभी दो लक्ष्य लेकर चल रहे हैं। एक अपनी टीम को वीवो प्रो कबड्डी लीग सीजन-5 का खिताब दिलाना और दूसरा अगले साल इंडोनेशिया में होने वाले एशियाई खेलों की टीम में खुद के लिए स्थान बनाना।

बीते साल अहमदाबाद में आयोजित विश्व कप की बस रोहित मिस कर गए थे। परिस्थितियां उनके वश में नहीं थीं क्योंकि वह कुछ अनापेक्षित मुश्किलों से जूझ रहे थे। रोहित हालांकि उनके बारे में बात नहीं करना चाहते क्योंकि उनका कहना है कि वह उस वक्त को भूलकर आगे निकल चुके हैं।

मई में आयोजित नीलामी में रोहित को 70 लाख रुपये से अधिक की बोली मिली। इससे उनका आत्मविश्वास बढ़ा। वह स्टार खिलाड़ी तो थे ही, हालात ने उनके मनोबल को तोड़ दिया था लेकिन बेंगलुरू बुल्स द्वारा जताए गए विश्वास ने रोहित को नए सिरे से तैयार किया और अब वह अपने लक्ष्य की ओर अग्रसर हैं।  OMG- श्रीलंका पहुंचते ही बदला विराट कोहली समेत भारतीय टीम का डाईट, अब ले रहे है ऐसे खाने

रोहित ने आईएएनएस से खास बातचीत में कहा कि वह अब जिंदगी को नए सिरे से देखते हैं और बेंगलुरू टीम के मालिक-डब्ल्यूएल लीग प्राइवेट लिमिटेड का शुक्रगुजार हैं कि उन्होंने उन पर भरोसा जताया और पांचवें सीजन के लिए उन्हें अपने साथ बनाए रखा।

रोहित ने कहा, भरोसा बहुत बड़ी चीज होती है और मैं अपने फ्रेंचाइजी मालिकों का शुक्रगुजार हूं। मेरे जीवन में काफी कुछ गलत हुआ। निजी स्तर पर मैं काफी परेशानियों से गुजरा। इसी कारण विश्व कप नहीं खेल सका। इसका मुझे हमेशा मलाल रहेगा लेकिन अब मैं काफी आगे निकल गया हूं। मैं एशियाई खेलो में देश के लिए खेलना चाहता हूं। यह मेरा लक्ष्य है लेकिन फिलहाल मेरा पहला लक्ष्य अपनी टीम को सीजन-5 का खिताब दिलाना है।

रोहित कुमार देश के अग्रणी रेडरों में से एक हैं। वह कबड्डी जगत में काफी लोकप्रिय हैं और अपने शानदार खेल से मैट पर समां बांध देते हैं। सीजन-4 में वह बेंगलुरू के लिए खेले थे लेकिन उससे पहले वह पटना पाइरेट्स के लिए खेल चुके हैं। पटना में उन्हें बहुत पसंद किया जाता है।  तमिलनाडु प्रीमियर लीग के दौरान धोनी के सबसे बड़े फैन ने धोनी से माँगा ये गिफ्ट

इस साल पटना में मैच नहीं हो रहे हैं। इसके मैच रांची शिफ्ट किए जा चुके हैं। इस संबंध में रोहित ने कहा, पटना में मुझे बड़ा प्यार मिलता है। सीजन-4 में जब मैं पटना में खेल रहा था तो लोगों का प्यार देखकर हैरान था। यही इस खेल की खूबसूरती है। मुझे यकीन है कि रांची में भी मुझे यही प्यार मिलेगा।

बेंगलुरू में इस साल लीग के मैच नहीं हो रहे हैं। इसके मैच नागपुर में शिफ्ट किए जा चुके हैं। और साथ ही लीग का फारमेट भी काम्पलेक्स हो गया है तथा इसकी अवधि भी बढ़ गई है। क्या इन सब बातों से लीग की लोकप्रियता प्रभावित होगी। इस बारे में रोहित ने कहा, कबड्डी एक खूबसूरत खेल है। फारमेट में बदलाव या फिर आयोजन स्थल में बदलाव इसकी लोकप्रियता में कमी नहीं ला सकते। मुझे यकीन है कि बुल्स के प्रशंसक नागपुर जाकर भी हमारा हौसला बढ़ाएंगे। अवधि इसकी लोकप्रियता में आड़े नहीं आएगी, ऐसा मुझे यकीन है।

उल्लेखनीय है कि वीवो प्रो कबड्डी लीग के पांचवें सीजन का आगाज शुक्रवार को होगा। गाचीबावली स्टेडियम में मेजबान तेलुगू टाइटंस और नई प्रवेशी तमिल थालाइवाज के बीच होने वाले मुकाबले के साथ 12 टीमों के बीच अगले सवा तीन महीनों तक चलने वाली रोमांचक प्रतिस्पर्धा का आरंभ होगा। सीजन पांच के तहत 12 आयोजन स्थलों पर कुल 138 मैच खेले जाएंगे।

इस लीग में इस साल चार नई टीमों का प्रवेश हुआ है। प्रथम प्रवेशी हरियाणा स्टीलर्स (सोनीपत), गुजरात फार्च्यूनजाएंट्स (अहमदाबाद), यूपी योद्धाज (लखनऊ) और तमिल थालाइवाज (चेन्नई) के अलावा मौजूदा चैम्पियन पटना पाइरेट्स (पटना), उपविजेता जयपुर पिंक पैंथर्स (जयपुर) , पूर्व चैम्पियन यू मुम्बा (मुम्बई), बंगाल वारियर्स (कोलकाता), बेंगलुरू बुल्स (बेंगलुरू), पुनेरी पल्टन (पुणे) और दिल्ली दबंग (दिल्ली) और तेलुगू टाइटंस (हैदराबाद) अपना दमखम दिखाते हुए खिताब पर कब्जा करना चाहेंगी। VIDEO: रविन्द्र जडेजा ने बनाया ड्रेसिंग रूम से श्रीलंका के दिग्गज स्पिनर रंगना हेराथ का मजाक, शास्त्री और कोहली ने दी ऐसे प्रतिक्रिया

Related posts