सुशील कुमार समेत पूरा भारत मांग रहा है स्वर्ण, योगेश्वर पर है ज़िम्मेदारी 1

इस ओलिम्पिक में भारत ने किसी भी ओलिम्पिक के मुकाबले सबसे ज्यादा खिलाड़ी भेज कर यह सोचा था, कि इस बार उनका प्रदर्शन भी सबसे शानदार रहेगा. लेकिन हुआ इसके बिलकुल उलट, भारत के लिए पदक जीतने के दावेदार एक-एक करके बहार होते गए.

भारतीय A टीम ने ऑस्ट्रेलिया कों दी 86 रनों से मात, अब पॉइंट टेबल के टॉप पर जमाया कब्जा

पहले अभिनव बिंद्रा पदक से ज़रा सा चूक गए, और उसके बाद ख़राब खेल के कारण दीपिका कुमारी टीम और व्यक्तिगत दोनों स्पर्धाओं से बहार हो गयी. सायना नेहवाल चोट के कारण जल्द ही पदक की दौड़ से बहार हो गयी तो वही जिम्नास्टिक्स में पहली बार भारत की ओर से फाइनल में पहुंची दीपा करमाकर भी पदक हासिल करने में नाकाम रही.

रियो ओलिम्पिक का आज आख़िरी दिन है और अब तक भारत केवल दो पदक ही हासिल कर पाया है. पहले साक्षी मलिक ने कुश्ती में भारत को पहला पदक दिला कर इतिहास रचा तो वही पी वी सिन्धु भी भारत की ओर से पहली महिला खिलाड़ी बनी जों बैडमिंटन के फाइनल में जगह बनाने में कामयाब रही.

सरफराज अहमद पर पाकिस्तान मेहरबान, सईद अजमल और शाहिद अफरीदी कों दिखा दिया हमेशा के लिए बाहर का रास्ता

साक्षी ने कांस्य पदक अपने नाम किया तो सिन्धु रजत पदक भारत के लिए जीतने में सफल रही. अब स्वर्ण पदक का पूरा दारोमदार योगेश्वर दत्त के कंधो पर आ गया है. रियो ओलिम्पिक के आख़िरी दिन योगेश्वर भारत के लिए इस ओलिम्पिक का पहला स्वर्ण पदक हासिल करने के मकसद से मैदान में उतरेंगें.

देखिए किस तरह ट्विटर पर उन्हें मिल रही है शुभकामनाएं.

 

सिंधु को 5 करोड़ रुपये देगा तेलंगाना

 

 

 

 

हारी सिंधु लेकिन सहवाग ने जों कहा वो कम कर देता है सिंधु के गोल्ड हार का दुःख

 

 

 

Ajay Pal Singh

सभी खेलों में दिलचस्पी है लेकिन सबसे पसंदीदा खेल क्रिकेट, पसंदीदा खिलाड़ी विराट...

One reply on “सुशील कुमार समेत पूरा भारत मांग रहा है स्वर्ण, योगेश्वर पर है ज़िम्मेदारी”