रूस पर पूर्ण प्रतिबंध अन्याय होगा : आईओसी

ians / 02 August 2016

अंतर्राष्ट्रीय ओलम्पिक समिति (आईओसी) के अध्यक्ष थॉमस बाक ने अपनी संस्था द्वारा रूस के डोपिंग मामले पर लिए गए फैसले का बचाव किया और कहा कि रूस पर पूर्ण प्रतिबंध लगाना खिलाड़ियों के प्रति अन्याय होगा।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, विश्व डोपिंग रोधी एजेंसी (वाडा) की रिपोर्ट के बाद तमाम डोपिंग रोधी एजेंसियों ने रूस के खिलाड़ियों को ओलम्पिक खेलों से दूर रखने के लिए कहा था।

बाक ने आईओसी के 129वें सत्र के उद्घाटन मौके पर कहा, “यह फैसला न्याय से संबंधित था।”

बाक ने कहा,

“न्याय को राजनीति से दूर रहना चाहिए। जो कोई भी नियम के उल्लंघनों का जबाव नियमों का उल्लंघन कर देता है तो यह न्याय के खिलाफ है।”

आईओसी ने अंतर्राष्ट्रीय खेल महासंघों से कहा है कि वह रूस के खिलाड़ियों के ओलम्पिक खेलों में हिस्सा लेने पर फैसला ले।

रूस के तकरीबन सौ खिलाड़ियों पर रियो ओलम्पिक खेलों में हिस्सा लेने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है।

बाक ने कहा,

“हमें महत्वपूण फैसले लेने पड़ेंगे। गंभीर आरोपों के कारण हम रूस के निर्दोष खिलाड़ियों को रोक नहीं सकते। दूसरी तरफ हम मानव अधीकार के तहत किसी खिलाड़ी को अपने आप को निर्दोष साबित करने का मौका नहीं छीन सकते।”

उन्होंने कहा,

“आप किसी इंसान को उसके देश की सरकार द्वारा की गई गलती की सजा नहीं दे सकते।”