रियो में बेटियों ने किया गौरवान्वित : मोदी

ians / 28 August 2016

नई दिल्ली, 28 अगस्त (आईएएनएस)| प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रियो ओलम्पिक में भारतीय एथलीटों के प्रयासों की तारीफ करते हुए रविवार को कहा कि देश की बेटियों ने देश को गौरवान्वित किया है। मोदी ने भारतीय महिला बैडमिंटन खिलाड़ी और रजत पदक विजेता पी.वी.सिंधु, महिला पहलवान साक्षी मलिक और जिम्नास्ट दीपा कर्माकर का उल्लेख करते हुए कहा, “हमने जो दो पदक जीते हैं, वे देश की बेटियां लेकर आई हैं। दो अन्य बेटियां भी हैं, जिन्होंने अच्छा प्रदर्शन किया। उन्होंने एक बार फिर साबित किया हैं कि वे किसी भी मायने में अन्य लोगों से कमतर नहीं हैं।”

यह भी पढ़े : ट्विटर प्रतिक्रिया : देखें कैसे पीएम मोदी समेत बड़े सितारों ने मनाया साक्षी की जीत का जश्न

मोदी ने अपने मासिक रेडियो कार्यक्रम ‘मन की बात’ में कहा, “रियो ओलम्पिक में भारतीय महिला एथलीट उत्तर भारत, दक्षिण भारत, पूर्वोत्तर एवं अन्य स्थानों से थीं। ऐसा लग रहा था कि भारत की बेटियां एक साथ होकर देश को गौरवान्वित करने का प्रयास कर रही हैं।”

उन्होंने अन्य एथलीटों और खिलाड़ियों की सराहना करते हुए कहा कि हालांकि ये पदक नहीं जीत पाए लेकिन इन्होंने अच्छा प्रदर्शन किया।

मोदी ने कहा, “जिमनास्टिक स्पर्धा में पहली बार दीपा कर्माकर ने हिस्सा लिया। 36 साल बाद महिला हॉकी टीम ओलम्पिक खेलों में गईं। 32 साल बाद पी.टी.ऊषा के बाद ओ.पी.जैशा मैराथन में क्वालीफाई कर पाईं। अभिनव बिंद्रा चौथे स्थान पर रहे और मुक्केबाज विकास यादव ने भी काफी अच्छा प्रदर्शन किया।”

यह भी पढ़े : भारत बनाम वेस्टइंडीज टी-ट्वेंटी, फ्लोरिडा : पहले टी-ट्वेंटी में हुई रिकार्ड्स की बारिश

उन्होंने भारतीय पुरुष हॉकी टीम की सराहना करते हुए कहा कि जीत हासिल करने वाली अर्जेटीना की टीम को सिर्फ भारत से हार मुंह की खानी पड़ी।

मोदी ने कहा कि देश ने काफी कुछ किया है। केंद्र सरकार ने एथलीटों के प्रदर्शन में सुधार हेतु जरूरी कदम उठाने के लिए एक समिति का गठन भी किया है।

इसके साथ ही मोदी ने राज्यों से उनकी पसंद के किन्हीं दो खेलों पर ध्यान केंद्रित करने का आग्रह किया।

यह भी पढ़े : ट्विटर प्रतिक्रिया : राहुल के शतक पर भारी पड़ा ब्रावो का आख़िरी ओवर

उन्होंने कहा, “आने वाला समय तभी अच्छा संभव हो सकता है, जब हम अपने व्यवहार में बदलाव लाएंगे और अब तक किए जाने वाले काम के तरीके में भी।”

मोदी ने लोगों से उनकी मानसिकता में बदलाव लाने और बच्चों को खेलों को जारी रखने का भी आग्रह किया।