रियो ओलम्पिक (बैडमिंटन) : फाइनल में पहुंची सिंधु, स्वर्ण की उम्मीद जगी

ians / 18 August 2016

रियो डी जनेरियो, 18 अगस्त (आईएएनएस)| भारत की अग्रणी महिला बैडमिंटन खिलाड़ी पी. वी. सिंघु ने ब्राजील की मेजबानी में खेले जा रहे ओलम्पिक खेलों में गुरुवार को महिला एकल वर्ग के फाइनल में प्रवेश कर लिया और भारत को बैडमिंटन में पहला ओलम्पिक स्वर्ण हासिल करने की उम्मीद जगा दी। रियो ओलम्पिक : लंदन का कारनामा दोहराने उतरेंगे भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी

रियोसेंटर पवेलियन-4 में खेले गए सेमीफाइनल मुकाबले में सिंधु ने छठी वरीयता प्राप्त खिलाड़ी जापान की निजोमी ओकुहारा को सीधे गेमों में 21-19, 21-10 से जीत हासिल करते हुए फाइनल का टिकट पक्का कर लिया।

फाइनल में सिंधु का सामना शीर्ष वरीयता प्राप्त स्पेन की कैरोलिना मारिन से होगा। सिंधु अब अगर फाइनल मैच हार भी जाती हैं तो उनका रजत पदक पक्का है, जो भारत का ओलम्पिक में बैडमिंटन का पहला रजत पदक होगा।

रियो ओलम्पिक में एथलीटों के बुरे प्रदर्शन के लिए कोच जिम्मेदार?

सिंधु ने पहले गेम में जबरदस्त प्रदर्शन किया और 10-6 की बढ़त ले ली। ओकुहारा की लाख कोशिशों के बावजूद भी सिंधु ने उन्हें आगे नहीं निकलने दिया और 27 मिनट में गेम 21-19 से अपने नाम किया।

सिंधु ने दूसरे गेम की शुरुआत अच्छी नहीं की और वह 0-3 से पीछे थीं। 10वीं विश्व वरियता प्राप्त सिंधु ने इसके बाद 5-5 से और 10-10 से बराबरी की।

सिंधु ने इसके बाद चौंकाने वाली वापसी की और लगातार 11 अंक हासिल कर 21-10 से मैच जीत लिया। यह गेम 22 मिनट चला।

रियो ओलम्पिक (कुश्ती) : साक्षी ने खोला भारत का खाता, जीता कांस्य