5 चीजे जो हमे डेनियल ब्रायन से सीखने को मिली

SAGAR MHATRE / 12 February 2016

पिछले कई सालों से डेनियल ब्रायन WWE का सबसे बडा चेहरा रहे है. उनके जितनी प्रसिद्धि, और दर्शकों का प्यार शायद ही कुछ सालों में किसी को मिला हो. डेनियल ब्रायन ने WWE में सभी को अपना फैन बना दिया, और उनके लिए दिवानगी भी काफी ज्यादा थी. उन्होंने इस हफ्तें के रॉ में WWE से संन्यास लिया, और एक अद्भुत दृश्य सभी को देखने को मिला.

अब हम बता रहे है ये 5 चीजें जो डेनियल ब्रायन से हमने सिखी:

1. रेसलमैनिया 30 में WWE चैम्पियन बने

डेनियल ब्रायन की ये जीत सिर्फ उनकी ही नहीं बल्की रेसलमैनिया इतिहास की सबसे शानदार और कमाल की जीत थी. ब्रायन ने उस रेसलमैनिया में एक ही दिन 2 मैचों में ट्रिपल एच, रेंडी ओरटन और बतिस्ता को हराया था. और ये जीत से हमने ये सिखा की आप कभी भी जीत सकते है.

2. अगर आपमे जज्बा हो तो आप किसी भी हालात में फाईट कर सकते है

डेनियल ब्रायन को चोट ने काफी सताया, और उसी वजह से उन्हें संन्यास लेना पडा. लेकिन डेनियल ब्रायन ने हार नहीं मानी, रेसलमैनिया 31 से पहले उन्होंने रिंग में वापसी की, और नये इंटरकाउंटेनेटल चैम्पियन बने. ब्रायन ने चोटिल होने के बावजूद शानदार प्रदर्शन किया, और ये सिखाया कि अगर आप में जज्बा हो तो आप किसी भी हालात में लड़ सकते है.

 

3. 2013 समर स्लैम जीत

ब्रायन ने 2013 समर स्लैम में जॉन सीना को हराकर WWE चैम्पियनशिप जीता था. ये ब्रायन के करियर का बडा दिन था. ब्रायन को सीना से लड़ने के लिए काफी मुश्किलों का सामना करना पडा, और ब्रायन ने सभी हालातों का सामना करके जीत हासिल की थी. इस मैच में ब्रायन से हमने सिखा की आप अकेले भी कुछ भी कर सकते है.

4. हमेशा दर्शकों के लिए लड़े

डेनियल ब्रायन और दर्शकों का एक अटूट नाता रहा है. ब्रायन को दर्शक हद से ज्यादा प्यार करते थे, और हमेशा उनके साथ खडे रहते थे. ब्रायन ने भी हमेशा दर्शकों के लिए खेला, और गंभीर चोट लगने के बावजूद वे दर्शकों के लिए लड़ते रहे. इससे ब्रायन ने ये सिखाया कि आप हमेशा अपने चाहने वालों के लिए लड़े, और उनको खुशी दे.

5. ब्रे वायट फैमली से बदला

बीच में एक ऐसा समय आया था कि, डेनियल ब्रायन वायट फैमिली से जुडे थे. ये ब्रायन के करियर का बडा महत्वपूर्ण समय था, और यहीं से ब्रायन का करियर पुरी तरह बदल गया. ब्रायन ने ब्रे से बदला लिया, और उनकी काफी पिटाई की. तब दर्शकों ने ब्रायन को इतना सपोर्ट किया था कि, वो “यस यस यस” की गुंज अभी भी कोई नहीं भुल पाया है. इससे हमने ये सीखा,कि आप बदला भी सहीं वक्त पर ले सकते है.

Related Topics