balor

काफी समय से चर्चाएँ थी कि फिन बैलर को बड़ा पुश मिलने वाला है। समय आ गया है जब फिन बैलर को चैंपियन बनने का मौका दिया गया है। ब्रॉक लैसनर इस क्रूजरवेट रैसलर के सामने एक ताकत का धनी रैसलर है। जो शायद फिन बैलर को अपने पैरों पर भी खड़े होने का मौका नहीं देना चाहेगा।

हाल ही में मार्क हेनरी ने फिन बैलर को सुझाव देते हुए कहा है कि लैसनर के पांव पर वार करने की रणनीति अपना कर उन्हें जीत मिल सकती है। इस आर्टिकल में हम आपके सामने रखने जा रहे हैं इस यूनिवर्सल चैंपियनशिप मैच के संभावित अंत।

यह भी पढ़ें: नहीं मिला गोल्डबर्ग का जवाब, तो WWE की विरोधी कंपनी ने किया इस रैसलर का रुख

लैसनर हासिल करेंगे एकतरफा जीत

ब्रॉक लैसनर बनाम फिन बैलर यूनिवर्सल चैंपियनशिप मैच के तीन संभावित अंत 1

फिन बैलर और ब्रॉक लैसनर के बीच शायद ही कोई समानता नजर आती हो। लेकिन आपकी जानकारी के लिए आपको बता दें कि फिन बैलर लम्बे समय तक रिंग में डटे रहने में पूर्णतः सक्षम हैं।

परन्तु सामने ‘द बीस्ट’ है, इस मैच का एक परिणाम यह निकाल सकता है कि लैसनर एक के बाद एक कई जर्मन सुप्लेक्स की झड़ी लगाने वाले हैं। जिससे रैसलमेनिया-35 में WWE यह गलती न करे, जो रॉयल रम्बल में की है।

ब्रॉन स्ट्रोमैन देंगे दखल

ब्रॉक लैसनर बनाम फिन बैलर यूनिवर्सल चैंपियनशिप मैच के तीन संभावित अंत 2

ब्रॉन स्ट्रोमैन अभी भी कोहनी की चोट से उबर नहीं पाए हैं। विन्स मैकमेहन नहीं चाहते थे कि लैसनर के खिलाफ़ उन्हें रिंग में उतरना पड़े, क्योंकि इससे स्ट्रोमैन की चोट और भी गंभीर हो सकती थी। इसलिए उन्हें पूरा मैच लड़ने से वंचित रखा गया।

संभावना है कि फिन बैलर को जिताने में ब्रॉन स्ट्रोमैन अहम भूमिका निभा सकते हैं। यानी ब्रॉक लैसनर से यूनिवर्सल चैंपियनशिप छिनने वाली है।

और पढ़ें: किसने कहा, मेरी जिंदगी में कांटे की तरह चुभ रहा है जॉन सीना

क्या होगा समरस्लैम 2013 जैसा मैच?

ब्रॉक लैसनर बनाम फिन बैलर यूनिवर्सल चैंपियनशिप मैच के तीन संभावित अंत 3

समरस्लैम में यदि पॉल हेमन लैसनर के साथ रिंगसाइड मौजूद न होते, संभव ही सीएम पंक को जीत मिलने वाली थी। पंक और लैसनर के बॉडी साइज़ में काफी अंतर है, इसके बावजूद सीएम पंक आधे घंटे से अधिक समय तक रिंग में डटे रहे।

फिन बैलर भी लम्बे-लम्बे मैच लड़ने में सक्षम हैं। रॉयल रम्बल 2018 में करीब 58 मिनट तक रिंग में डटा रहा था यह रैसलर। यदि फिन बैलर, सीएम पंक सा प्रदर्शन दोहराने में सफल रहते है तो उन्हें क्लीन जीत हासिल हो सकती है।