ढाई दशक रैसलिंग में में गुज़ारने के बाद इस दिग्गज ने लिया WWE से संन्यास

Trending News

Blog Post

WWE

रॉ में मुकाबला हारते ही रैसलिंग रिंग में ढाई दशक गुज़ारने वाले इस रैसलर ने लिया संन्यास 

रॉ में मुकाबला हारते ही रैसलिंग रिंग में ढाई दशक गुज़ारने वाले इस रैसलर ने लिया संन्यास

तीन दिसंबर की WWE रॉ लाइव इवेंट की शुरुआत, रोंडा राउज़ी और नाया जैक्स के सेगमेंट से हुई। जहाँ नताल्या और रोंडा राउज़ी की टीम को नाया जैक्स, तमिना और ‘द रायट स्क्वाड’ ने झकझोर कर रख दिया।

WWE रॉ लाइव इवेंट में न तो ब्रॉन स्ट्रोमैन की ही वापसी हुई और ना ही TLC मैच कार्ड में कोई मैच जोड़ा गया। लेकिन कुछ ऐसा हुआ जिससे हम एक दिग्गज रैसलर को रिंग में अब कभी नहीं देख पाएंगे। उन्हें नम विदाई दी जा सकती थी, लेकिन सवाल उठने लाज़िमी हैं कि रैसलिंग रिंग में करीब ढाई दशक गुज़ारने के बाद भी इस रैसलर को वह विदाई नहीं दी गयी, जिसके वो हक़दार थे।

राइनो ने लिया संन्यास

heath slater

मंडे नाईट रॉ में हीथ स्लेटर और राइनो के बीच मैच लड़ा गया। शर्त यह थी कि जो इस मैच में जीत हासिल करेगा, वो कंपनी का हिस्सा बना रहेगा। दूसरी तरफ़ जिसे हार मिलेगी उसे कंपनी से बाहर निकाल दिया जायेगा।

जीत हासिल हुई हीथ स्लेटर को और राइनो को WWE से बाहर होना पड़ा। लेकिन आपको बता दें कि यह मैच, राइनो की रिटायरमेंट के लिए ही रचा गया था। उन्हें रिंग में लड़ते ढाई दशक बीत चुका है और अब शायद वो रिंग का नियमित हिस्सा नहीं बने रहना चाहते।

मिल सकती थी नम विदाई

rhyno

उन्होंने कॉमर्शियल ब्रेक के दौरान रिंग में खड़े हो अपनी रिटायरमेंट स्पीच दी। लेकिन क्या राइनो को पांच मिनट का लाइव सेगमेंट देना भी WWE अधिकारियों पर भारी पड़ रहा था।

कम से कम WWE से उन्हें वह विदाई मिल सकती थी, जिसके वो हक़दार थे। 90 के दशक से वो रिंग में लड़ते आ रहे हैं और फैन्स की उम्मीदों पर खरे भी उतरे। हालाँकि वह अलग बात रही कि बीते तीन से चार साल उनके करियर के लिए ठीक नहीं गुज़रे। हीथ स्लेटर को भी मैच जीतने का कोई फ़ायदा नहीं हुआ, उन्हें एक रैसलर के तौर पर नहीं, एक रेफ़री के तौर पर WWE से जोड़े रखा गया है।

Related posts