हमारे बारे में

स्पोर्ट्जविकि एशिया में उभरती हुई चुंनिदा स्पोर्ट्स वेबसाइट्स में से एक है। विभिन्न भाषाओं में हम 10 से अधिक लोकप्रिय खेलों से जुड़ी खबरें प्रकाशित करते हैं। हमारी रीडरशिप में हर आयु वर्ग के लोग शामिल हैं। हमारी एडिटोरियल टीम में खेल के जानकार विभिन्न लेखकों की बड़ी टीम शामिल है,जिनका उद्देश्य गुणवत्तापूर्ण कंटेंट उपलब्ध कराना है।

इतिहास-

स्पोर्ट्जविकि का नाम 15 मार्च 2013 को पंजीकृत हुआ। इसके बाद हमारे कुछ लोगों की टीम ने एक पहल शुरू की और कारवां बनता चला गया। समय-समय पर कई अहम बदलाव से भी गुजरे। इस दौरान हमारे साथ प्रतिष्ठित लेखक और पत्रकार भी जुड़े। पिछले 5 साल के इतिहास के साथ लेखकों की एक लंबी फौज हमारे साथ जुड़ चुकी है। ये दुनिया के कोने-कोने से हमारी साइट के लिए अच्छा और उपयोगी कंटेंट उपलब्ध कराते है।

संस्थापक

स्पोर्ट्जविकी की स्थापना देश में खेल के प्रति लोगों को आकर्षित करने के उद्देश्य से भूपेंद्र सिंह द्वारा की गयी। उनका खेल से बेहद जुड़ाव और क्या घट रहा है यही जानने की उत्सुकता ने स्पोर्टजविकि की स्थापना के लिए प्रेरित किया। उनका मूल मकसद बड़ी खबरों के बीच में दब चुकी खेल की खबरों को लोगों तक पहुंचाना है। स्पोर्टजविकी ने उनके सपने को सच करते हुए आज मिलों का सफर तय कर लिया है और अभी भी यह यात्रा अनावरत जारी है।

वीपी सेल्स और मार्केटिंग

अनामिका हमारी सेल्स और मार्केटिंग की हेड अनामिका हैं। हमारी कंपनी के विस्तार में अहम भूमिका निभाती हैं।

प्रॉडक्ट हेड

विनय मणि त्रिपाठी डिजिटल मार्केटिंग और प्रॉडक्ट हैड हैं। इसी के साथ वो कंटेंट और आय को संभालते हैं।

संपादकीय टीम

हमारी संपादकीय टीम का नेतृत्व कुशल व योग्य लेखकों के द्वारा किया जा रहा है। अखिल गुप्ता संपादकीय टीम के प्रमुख हैं। खेल में गहरी रूचि और जानकारी रखते हैं। अखिल के सहायक के रूप में विनीत किशोर (रेसलिंग हेड), रोहित पांडेय ( क्रिकेट हेड) और कल्पेश कलाल ( फुटबॉल हेड) हैं। इन्हीं के नेतृत्व में कुशल लेखकों की बड़ी टीम शामिल है। वर्तमान समय में हमारी संपादकीय टीम में बतौर लेखक, नीरज शर्मा, आशीष पांडेय, दिव्यांशु पटेल, अशुतोष सिंह, गुरप्रीत कौर, अनुराग सिंह और देवेश झा शामिल हैं।