ICC: आईसीसी ने मार्च महीने के लिए इन खिलाड़ियों को घोषित किया "प्लेयर ऑफ़ द मंथ" 1

अंतराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने मार्च माह के लिए तीन पुरुष क्रिकेट खिलाड़ियों को उनकी टीम में शानदार योगदान के लिए प्लयेर ऑफ़ द मंथ चुना है, इसमें भारत के तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार, जिम्बाब्वे टीम के कप्तान सीम विलियम एवं अफगानिस्तान के स्पिन गेंदबाज राशिद खान का नाम घोषित किया है, आईसीसी ने यह घोषणा अपने अधिकारिक ट्वीटर हैंडल से शेयर की है.

सीन विलियम्स 

ICC: आईसीसी ने मार्च महीने के लिए इन खिलाड़ियों को घोषित किया "प्लेयर ऑफ़ द मंथ" 2

आईसीसी ने जिम्बाब्वे के कप्तान सीन विलियम्स को सबसे पहले नामांकित किया है. सीन विलियम्स ने पिछले मार्च महीने के दौरान यूएई (UAE) में अफगानिस्तान के साथ खेले गए 2 टेस्ट मैच 2 शतक लगाये, विलियम्स से इन टेस्ट मैचों में 3 पारियां खेलते हुए 264 रन स्कोर किये.

जिम्बाब्वे के कप्तान ने दूसरे मैच के दूसरी पारी में 151 रन की शानदार पारी खेली थी, लेकिन इसके बावजूद भी  जिम्बाब्वे यह टेस्ट हार गयी, टीम के लिए महत्वपूर्ण योगदान के लिए आईसीसी ने इन्हें मार्च के सर्वश्रेष्ठ 3 खिलाड़ियों में शामिल किया है.

राशिद खान 

ICC: आईसीसी ने मार्च महीने के लिए इन खिलाड़ियों को घोषित किया "प्लेयर ऑफ़ द मंथ" 3

आईसीसी ने दूसरे खिलाड़ी के रूप में अफगानिस्तान टीम के राशिद खान का नाम चयन किया है, राशिद खान ने जिम्बाब्वे के खिलाफ दूसरे टेस्ट मैच में 11 विकेट चटकाए, हालांकि राशिद पहले टेस्ट मैच में अपनी गेंदबाजी का दमखम दिखाने में बेअसर साबित हुए थे, लेकिन जल्द ही राशिद ने दूसरे टेस्ट में वापसी की और टेस्ट की पहली इनिंग में 4 विकेट व दूसरी इनिंग में 7 विकेट झटकने में कामयाब हुए. राशिद खान की जबरदस्त गेंदबाजी की बदौलत अफगानिस्तान टीम दूसरा मैच जीतने में सफल रही और सीरीज को 1-1 से ड्रा कराने में कामयाब हो गई.

भुवनेश्वर कुमार

आईसीसी

आईसीसी ने भारत के पेसर गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार को भी प्लेयर ऑफ़ द मंथ से सम्मानित किया है. भुवनेश्वर दिसम्बर 2019 के बाद पहली बार इंग्लैंड के खिलाफ वनडे सीरीज खेलते नज़र आये, जहां इस तेज गेंदबाज ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में शानदार वापसी करते हुए सीरीज में 22.50 के औसत से 6 विकेट चटकाए और मात्र 4.66 की इकॉनमी रेट से रन खर्च किये.

भुवनेशवर इंग्लैंड के खिलाफ टी20 सीरीज में भी 4 विकेट हासिल करने में सफल रहे, इस सीरीज के निर्णायक मुकाबले में इन्होंने 4 ओवर में 15 रन देकर 2 विकेट चटकाये, भुवनेशवर की इसी गेंदबाजी के दम पर भारत यह मैच जीतने में कामयाब रहा और साथ ही सीरीज भी अपने नाम कर सका,  इस मैच में भुवी को मैन ऑफ़ द मैच से नवाज़ा गया था.