इस पूर्व भारतीय दिग्गज बल्लेबाज ने किया ये नेक काम | Sportzwiki Hindi

Trending News

Blog Post

क्रिकेट

इस पूर्व भारतीय दिग्गज बल्लेबाज ने किया ये नेक काम 

इस पूर्व भारतीय दिग्गज बल्लेबाज ने किया ये नेक काम

अपने कलात्मक शॉट्स से क्रिकेट की दुनिया में अपनी एक बड़ी पहचान बनाने वाले पूर्व भारतीय बल्लेबाज वीवीएस लक्ष्मण ने सराहनीय काम करते हुए एक ‘वीवीएस फाउंडेशन’ नाम से एक संस्था की शुरूआत की है. जो संस्था योग्य बच्चों और उभरते हुए खिलाड़ियों को अच्छी शिक्षा और अवसर प्रदान कराने में मदद करेगी. इस संस्था के उद्घाटन की फोटो वीवीएस लक्ष्मण ने अपने ट्विटर अकाउंट पर पोस्ट की और उन्होंने अपनी संस्था के लिए ट्विट भी किया. बैंगलोर ने किया कोलकाता के खिलाफ अपनी टीम का ऐलान, जीत की तालाश में कोहली ने जताया अब युवाओं पर भरोसा और किये बड़े बदलाव

ट्विट पर वीवीएस लक्ष्मण ने लिखा 

“आज आधिकारिक तौर पर ‘वीवीएस फाउंडेशन’ की शुरूआत हो गई है, ये एक पहल है योग्य बच्चों और उभरते हुए खिलाड़ियों को अच्छी शिक्षा और अवसर प्रदान करने के  लिए”

इस मौके में परिवार सहित टीम के साथी रहे मौजूद 

‘वीवीएस फाउंडेशन’ के उद्घाटन में वीवीएस लक्ष्मण के साथ उनका पूरा परिवार मौजूद रहा उनकी बीवी व दोनों बच्चे उनके इस कार्यक्रम में दिखाई दिए. वही इस मौके में उनके साथ सन राइजस हैदराबाद के कप्तान डेविड वार्नर व विस्फोटक बल्लेबाज युवराज सिंह भी दिखाई दिए.

अत्तित रहा है बहुत ही शानदार 

भारतीय क्रिकेटर लक्ष्मण हैदराबाद की रणजी टीम का प्रतिनिधित्व करते थे. उसके बाद वही से वह भारतीय टीम में आये. वो इंग्लैंड में लंकाशायर काउंटी क्रिकेट क्लब से भी खेल चुके है. लक्ष्मण पूर्व भारत के राष्ट्रपति, महान डॉ॰ सर्वपल्ली राधाकृष्णन के भतीजे हैं वह डेक्कन चार्जर्स टीम के इंडियन प्रीमियर लीग में कप्तान भी रह चुके हैं लक्ष्मण को पद्मश्री पुरस्कार एवं भारत के चौथे सर्वोच्च नागरिक सम्मान से सम्मानित किया जा चुका है. हार के साथ ही महेंद्र सिंह धोनी के आईपीएल के सबसे शर्मनाक रिकॉर्ड के बेहद करीब पहुंचे गौतम गंभीर

इस पारी के लिए जाने जाते है लक्ष्मण

लक्ष्मण ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम के खिलाफ अपनी बल्लेबाजी के लिए सबसे ज्यादा विख्यात थे. उन्होंने ऑस्टेलिया के ही खिलाफ कोलकाता के इडन गार्डन मैदान में शानदार 281 रनों की पारी खेली थी. जो आज भी कोई क्रिकेट प्रेमी नहीं भुला है. ये पारी इसलिए भी खास थी क्यौंकी उन्होंने ये पारी फोलोऑन के बाद खेली थी.

Related posts